उप्र : 11 दिन में पुलिस ने किए 49 गिरफ्तार, 4911 रेमडिसिविर इंजेक्शन बरामद

उप्र : 11 दिन में पुलिस ने किए 49 गिरफ्तार, 4911 रेमडिसिविर इंजेक्शन बरामद
up-police-arrested-49-in-11-days-4911-remedicivir-injections-recovered

- बाराबंकी के एक अस्पताल संचालक पर एफआईआर लखनऊ, 26 अप्रैल (हि.स.)। कोरोना संक्रमित मरीजों को लगने वाला ‘रेमडेसिविर‘ इंजेक्शन व ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ बड़े स्तर से अभियान चलाया जा रहा है। पुलिस ने 10 दिनों के भीतर कालाबाजारी करने वाले 49 आरोपितों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से 4911 रेमडिसिवीर इंजेक्शन, 340 ऑक्सीजन सिलेंडर, लगभग 10 लाख रुपये और चार मोबाइल फोन भी बरामद हुए है। पुलिस अब इन पर गैंगस्टर एक्ट या रासुका के तहत कठोरतम कार्रवाई भी की जा रही है। सरकार के लाख प्रयासों के बावजूद लोग इजेंक्शन और ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए एसटीएफ के अलावा खुफिया एजेंसियों को भी सक्रिय किया गया है। जिले स्तर पर पुलिस ने कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्यवाही के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं। जिनके द्वारा सूचना देने वालों का नाम गोपनीय रखा जाये। वहीं, पुलिस ने कालाबाजारी करने वालों की धरपकड़ के लिए अभियान चलाया हुआ है और लोग पकड़े भी जा रहे हैं। 10 दिनों में 44 गिरफ्तार प्रदेश की औद्योगिक नगरी कानपुर नगर में एसटीएफ ने तीन लोगों को किदवई नगर चौराहे से रेमडिसीविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए पकड़ा। इनके पास से 265 रेमडिसीविर इंजेक्शन बरामद किया। इसके बाद पुलिस ने इंडस्ट्रियल एरिया साइट नम्बर-4 में स्थित वेद सैसो मैकेनिका इंडिया प्राईवेट लिमिटेड के प्रबन्धक शिवाकांत पाण्डेय को अवैध सिलेंडरों के साथ पकड़ा। 20 ऑक्सीजन सिलेंडर बरामद हुए। अनवरगंज थाना क्षेत्र में तीन आरोपितों को 64 खाली और 50 भरे ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ पकड़ा। इसी तरह कर्नलगंज थाना पुलिस क्षेत्र में शनि मेडिकल संचालक को ऑक्सीमीटर की कालाबाजारी करते हुए गिरफ्तार किया। गोविंद नगर थाना क्षेत्र में सिंह गैस एजेंसी के मालिक जसवंत सिंह से 51 ऑक्सीजन सिलेंडर बरामद कर मुकदमा दर्ज किया गया। गौतमबुद्धनगर पुलिस ने सेक्टर 20 में रचित घई को कालाबाजारी के लिए लाई गई रेमडिसीविर इंजेक्शन के साथ गिरफ्तार किया। उससे 100 रेमडिसीविर इंजेक्शन भारतीय, पांच रेमडिसीविर इंजेक्शन बांग्लादेशी और एक लाख 54 हजार रुपए नकद बरामद किया गया। लखनऊ के ठाकुरगंज थाना क्षेत्र में पुलिस ने एरा मेडिकल कॉलेज के पास से रेमडिसीविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए चार आरोपितां को दबोचा। इनके पास से 34 रेमडिसीविर इंजेक्शन और चार लाख 69 हजार रुपये नकद बरामद हुए। ठाकुरगंज पुलिस ने दो आरोपितों को एरा मेडिकल कॉलेज के पास से रेमडिसीविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए पकड़ा। इनसे छह रेमडिसीविर इंजेक्शन और 47 सौ रुपये नकद बरामद किया। नाका हिंडोला पुलिस ने चार आरोपियों को चारबाग मैट्रो स्टेशन के नीचे से रेमडिसीविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए बिक्री के रुपयों के साथ गिरफ्तार किया। इनसे 116 रेमडिसीविर इंजेक्शन और एक लाख 94 हजार रुपये नकद बरामद किए। कृष्णानगर थाना क्षेत्र में एक आरोपित को गिरफ्तार किया गया। इससे 54 अदद ऑक्सीजन सिलेंडर, रिफिलिंग के उपकरण और दो पिकअप लोडर वाहन बरामद हुए अमीनाबाद पुलिस ने दो आरोपितो को नजीराबाद चौकी क्षेत्र से पकड़ा। उनके कब्जे से 11 रेमडिसीवर इंजेक्शन और 39 हजार रुपये बरामद हुए। मानकनगर पुलिस ने चार आरोपितों से 91 नकली रेमडिसीविर इंजेक्शन और 5250 रुपये बरामद किया। गोमतीनगर पुलिस ने ग्वारी चौराहे के पास से चार आरोपितों को पकड़ा। इनके पास से 54 रेमडिसीविर इंजेक्शन और बिक्री के 51400 रुपये बरामद किए। अमीनाबाद थाना पुलिस ने पांच अभियुक्तों को पकड़ा है। इनके पास से 4224 ‘रेमडेसिविर‘ इंजेक्शन, 59 रैमडीसिविर इंजेक्शन की शीशी, 240 पीपी टी 4.5 इंजेक्शन बरामद हुआ है। प्रयागराज जनपद की कोतवाली नगर पुलिस ने तीन आरोपितों को रेमडिसीविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने के लिए वादी से इंजेक्शन बेचने के दौरान मोबाइल पर सौदा तय करते हुए पकड़ा। इनसे चार मोबाइल फोन और पांच हजार रुपये बरामद किया गया। बाराबंकी के कोतवाली नगर थाना क्षेत्र में एक आरोपित को रेमडिसीविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए गिरफ्तार किया गया। इससे पांच रेमडिसीविर इंजेक्शन 100 एमजी का बरामद किया गया। मेरठ के लिसाड़ीगेट थाना क्षेत्र में आठ आरोपित पकड़े गए इनसे एक रेमडिसीविर इंजेक्शन और 25 हजार रुपये नकद बरामद किया गया। गाजियाबाद पुलिस ने कोतवाली और नंदग्राम थाना क्षेत्र में दो आरोपितों को पकड़ा। इनके पास से 101 ऑक्सीजन सिलेंडर बरामद हुए। बाराबंकी में अस्पताल संचालक पर एफआईआर जनपद बाराबंकी के एक अस्पताल संचालक के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुआ है। आरोप है कि आरोपित आरोपी के पास पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद था, लेकिन उसने ऑक्सीजन नहीं होने का बहाना बनाकर मरीज को भर्ती करने से मना कर दिया था। मुख्यमंत्री का सख्त आदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त निर्देश दिया है कि प्रदेश में जीवनरक्षक दवा, रेमडेसिविर इजेंक्शन, ऑक्सीजन की कालाबाजारी करना बड़ा अपराध है। इसमें संलिप्त व्यक्तियों के विरुद्ध गैंगस्टर एक्ट या रासुका के तहत कठोरतम कार्रवाई की जाए। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक