उप्र पंचायत चुनाव : नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों और पंचायत सदस्यों के शपथ ग्रहण की तिथि घोषित

उप्र पंचायत चुनाव : नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों और पंचायत सदस्यों के शपथ ग्रहण की तिथि घोषित
up-panchayat-election-date-of-swearing-of-newly-elected-village-heads-and-panchayat-members-announced

- वीडियो क्रान्फ्रेंसिंग या वर्चुअल माध्यम से दिलाई जाएगी शपथ - संगठित ग्राम पंचायतों की पहली बैठक 27 मई को लखनऊ, 22 मई (हि.स.)। उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव सम्पन्न होने के 20 दिन बाद शनिवार को ग्राम पंचायतों का गठन और ग्राम प्रधानों व क्षेत्र पंचायत सदस्यों के शपथ ग्रहण की तिथियां घोषित कर दी गईं। शासन द्वारा जारी आदेश के अनुसार, 25 से 26 मई के बीच ग्राम प्रधानों और पंचायत सदस्यों का शपथ ग्रहण होगा। अभी तक कोरोना महामारी के प्रकोप के कारण शपथ ग्रहण कार्यक्रम को सरकार ने रोक रखा था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अनुमति के बाद अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह ने शासन द्वारा जारी आदेश सभी जिलाधिकारियों को भेजकर तैयारियों में जुटने के लिए कहा है। उन्होंने 24 मई को ग्राम पंचायतों के गठन की अधिसूचना जारी करने के लिए निर्देशित किया है। शपथ ग्रहण के बाद संगठित ग्राम पंचायतों की पहली बैठक 27 मई को आयोजित होगी। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि कोविड-19 को देखते हुए 58,176 प्रधान व 73,183 पंचायत सदस्यों का शपथ ग्रहण समारोह ब्लॉक पर सम्भव नहीं होगा। नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों को जिलाधिकारी द्वारा नामित अधिकारी वीडियो क्रान्फ्रेंसिंग या वर्चुअल माध्यम से शपथ दिलवाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रतिनिधि अपने ग्राम पंचायत में ही पंचायत घर, सामुदायिक भवन या ग्राम पंचायत क्षेत्र स्थित कॉमन सर्विस सेंटर में शपथ लेंगे। जिलाधिकारी को भेजे पत्र में उन्होंने कहा कि उन ग्राम पंचायतों को अधिसूचित नहीं किया जाएगा, जहां से ग्राम प्रधान व कम से कम दो तिहाई सदस्य निर्वाचित नहीं हुए हैं। यानि सदस्य का दो तिहाई होना अनिवार्य है। अगर सदस्य दो तिहाई नहीं होगा तो प्रधान शपथ नहीं ले सकेगा। उन्होंने बताया कि अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि शपथ ग्रहण से जुड़ी सभी जानकारियां प्रतिनिधियों को पर्याप्त समय से पहले दी जाए। उन्होंने बताया कि वर्चुअल शपथ के लिए लैपटॉप आदि की व्यवस्था की जाएगी। उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में बीते 29 अप्रैल को चार चरणों में पंचायत चुनाव सम्पन्न हुए। मतगणना 02 मई को प्रारम्भ हुई थी। मतगणना शुरू होने के करीब 20 दिनों बाद ग्राम प्रधान व पंचायत सदस्यों के शपथ ग्रहण की तिथि घोषित हुई है। हिन्दुस्थान समाचार/राजेश/विद्या कान्त