up-commander-of-pfi-taken-on-remand-with-saathi-nia-will-interrogate
up-commander-of-pfi-taken-on-remand-with-saathi-nia-will-interrogate
उत्तर-प्रदेश

उप्र : पीएफआई के कमांडर साथी संग रिमांड पर लिए गए, एनआईए करेगी पूछताछ

news

लखनऊ,17 फरवरी (हि.स.)। बसंत पंचमी के दिन राजधानी को दहलाने की साजिश को नाकाम करते हुए सटीएफ ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) का कमांडर अन्सद और हथियारों की ट्रेनिंग देने वाले को गिरफ्तार किया था। बुधवार को उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेश किया गया। इस दौरान कोर्ट ने दोनों को सात दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड पर भेजा है। एटीएस के साथ कई सुरक्षा जांच एजेंसी इस मामले को लेकर दोनों से पूछताछ करेगी और 24 फरवरी को दोबारा कोर्ट में पेश करेगी। अपर पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने मंगलवार को प्रेसवार्ता करके बताया था कि गिरफ्तार पीएफआई कमांडर की पहचान केरल के जनपद पत्थानामथिट्टा नसीमा मंजिल मुडियार निवासी अन्सद बदरुद्दीन और उसका साथी केरल निवासी फिरोज खान के रूप में हुई है। इनके पास से 16 एक्सप्लोसिव डिवाइस, एक पिस्टल, सात कारतूस, दो पेन ड्राइव, 12 रेलवे टिकट, पैन कार्ड, एटीएम, डीएल, आधार कार्ड बरामद किया गया है। एसटीएफ ने कुकरैल पिकनिक स्पॉट से इन्हें दबोचा था। यह लोग बसंत पंचमी के दिन बड़ी वारदात को अंजाम देने वाले थे। सुरक्षा जांच एजेंसी करेगी पूछताछ राजधानी को दहलाने की आतंकी साजिश को नाकाम करते हुए यूपी एसटीएफ ने दोनों गिरफ्तारी की थी। इस मामले में अब एटीएस ने मुकदमा दर्ज कर आगे की तफ्तीश शुरु कर दी है। सात दिन के रिमांड अवधि में एटीएस, एनआईए और सुरक्षा जांच एजेंसियां इनके मंसूबों और सहयोगी के बारे में विस्तार से पूछताछ करेगी। कई जिलों का किया दौरान एडीजी का कहना है कि अभी तक पूछताछ में यह पता चला है कि अपना नेटवर्क फैलाने के लिए दोनों ने यूपी के कई जिलों का दौरा किया है। संगठन के लोगों को आतंकी वारदातों को अंजाम देने के लिए प्रशिक्षित करने का सुरक्षित ठिकाना तलाश रहे थे। यह तलाश उत्तर प्रदेश में नहीं कई देश के कई शहरों में हो रही थी। इनके पास लखनऊ मैट्रों का कार्ड भी मिला है, आशंका है कि इन्होंने मैट्रों को भी अपना निशाना बना रखा था। 123 लोगों की गिरफ्तारी एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि इन दोनों का संबंध पीएफआई आतंकी संगठन से हैं। बीते एक साल से इस संगठन से जुड़े करीब 123 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक/मोहित-hindusthansamachar.in