UP: 14,344 active cases of corona, recovery rate surpasses 96 percent
UP: 14,344 active cases of corona, recovery rate surpasses 96 percent
उत्तर-प्रदेश

उप्र: कोरोना के 14,344 सक्रिय मामले, रिकवरी दर बढ़कर 96 प्रतिशत के पार

news

-बीते चौबीस घंटे में 1,021 नए केस आये सामने, 1,369 मरीज डिस्चार्ज लखनऊ, 29 दिसम्बर (हि.स.)। प्रदेश में पिछले चौबीस घंटे में संक्रमण के 1,021 नए मामले सामने आए हैं। इसी दौरान उपचार के बाद स्वस्थ होने के कारण 1,369 मरीज डिस्चार्ज किए गए। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 14,344 हो गई है। वहीं वर्तमान प्रदेश की रिकवरी दर 96 प्रतिशत से ज्यादा है। प्रमुख सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य आलोक कुमार ने मंगलवार को बताया कि कल प्रदेश में 1,32,471 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इनमें 57,498 नमूनों की जांच आरटीपीसीआर से की गई। वहीं 73,315 एंटीजन टेस्ट और शेष ट्रूनेट-सीबी नैट के माध्यम से किए गए। अब तक कुल मिलाकर 2,36,40,902 सैंपल्स की जांच की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि कुल सक्रिय मामलों में से 6,336 लोग होम आइसोलेशन में हैं। वहीं अब तक कुल 5,61,257 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। यूके से लौटे लोगों की जल्द आएगी जीनोम सीक्वेंसिंग रिपोर्ट प्रमुख सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि यूनाइटेड किंगडम से लौटे लोगों की जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए नमूनों की रिपोर्ट संभवत बुधवार या गुरुवार तक आ जाएगी। इसके बाद पता चल जाएगा कि उनमें वायरस का नया स्ट्रेन है या नहीं। इन लोगों के करीबी सम्पर्क वालों की मॉनिटरिंग सम्बन्धित जिला प्रशासन कर रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केजीएमयू और प्रदेश के अन्य सेंटर में जीनोम सीक्वेंसिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। केजीएमयू में इसकी मशीन पहले से उपलब्ध है। कुछ चीजों की आवश्यकता है, इसके निर्देश जारी कर दिए गए हैं। यहां जल्द ही यह जीनोम सीक्वेंसिंग की जा सकेगी। लखनऊ में संक्रमण का ग्राफ नीचे लाने पर जोर प्रमुख सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने कहा कि राज्य में संक्रमण पूरी तरह से नियंत्रण में है। कुछ जनपदों जहां अभी संक्रमण की दर अपेक्षाकृत ज्यादा है, वहां ध्यान दिया जा रहा है। इसी कड़ी में कल लखनऊ की समीक्षा की गई थी। लखनऊ में प्रतिदिन लगभग 200 नए मामले सामने आ रहे हैं। हालांकि सितम्बर में यहां प्रतिदिन लगभग 1,300 नए केस आते थे। इसकी तुलना में अब संक्रमण काफी घट गया है। लेकिन, इसे और नीचे लाने का प्रयास किया जा रहा है। इसे लेकर निर्देश जारी किए गए हैं। माघ मेला, संत समागम को लेकर गाइडलाइन होगी जारी उन्होंने कहा कि वहीं माघ मेला और संत समागम, मथुरा में भीड़ आने की संभावना है। इसके मद्देनजर आवश्यक दिशा निर्देश, सावधानियां आदि पर विचार विमर्श हुआ है और जल्द ही इसकी गाइडलाइन भी जल्द जारी कर दी जाएगी। नॉन कोविड केयर की व्यवस्था भी पटरी पर लौटी प्रमुख सचिव, स्वास्थ्य ने बताया कि राज्य में कोविड के साथ अन्य स्वास्थ्य सेवाओं पर भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है। प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में कल 5,359 सामान्य प्रसव और 143 सिजेरियन किए गए। वहीं मेजर सर्जरी की बात करें तो 01 नवम्बर से 28 दिसम्बर 2019 के दौरान इनकी संख्या जहां 46,471 थी। वहीं इसी अवधि में इस वर्ष कुल 43,315 मेजर सर्जरी की गई। इस तरह लगभग बराबर की स्थिति आ गई है। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/दीपक-hindusthansamachar.in