token-system-started-for-selling-wheat
token-system-started-for-selling-wheat
उत्तर-प्रदेश

गेहूं विक्रय के लिए टोकन व्यवस्था हुई शुरू

news

- सौ क्विंटल तक बेचने के लिए मिलेगा एक टोकन हमीरपुर, 03 अप्रैल (हि.स.)। गेहूूं विक्रय करने वालों किसानों के लिए टोकन देने की व्यवस्था शुरू कर दी गई है। एक बार सौ क्विंटल तक टोकन दिया जाएगा। अगला टोकन एक सप्ताह बाद मिलेगा। अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे/जिला गेहूं खरीद अधिकारी राजेश कुमार यादव ने शनिवार को यहां चल रही गेहूं खरीद के संबंध में किसानों से कहा कि गेहूं क्रय केंद्रों में गेहूं विक्रय करने वाले किसानों को ऑनलाइन टोकन दिए जाने की व्यवस्था दी गई है। इसके लिए ऑनलाइन टोकन जारी होने शुरू हो गए है। कहा कि किसान आगामी 15 दिनों का ऑनलाइन टोकन खाद्य विभाग के पंजीकरण पोर्टल से स्वयं प्राप्त कर सकते हैं। किसानों द्वारा एक बार में 100 क्विंटल तक का टोकन लिया जा सकता है। एक बार टोकन लेने के बाद अगला टोकन एक सप्ताह बाद दिया जाएगा। कहा कि जिस तिथि के लिए किसानों द्वारा ऑनलाइन टोकन प्राप्त किए गए है। उस तिथि को संबंधित क्रय केंद्र पर 12 बजे तक पहुंचना जरुरी होगा। मंडी परिषद से बाहर स्थापित क्रय केंद्रों को राजस्व ग्रामों से संबद्ध किया गया है। जबकि मंडी परिसर में स्थापित क्रय केंद्रों को संबद्धिकरण से मुक्त रखा गया है। जहां पर जनपद का कोई भी किसान अपना गेहूं बिक्री कर सकता है। उन्होंने बताया कि 100 क्विंटल से अधिक गेहूं की मात्रा होने, चकबंदी अंतर्गत गांव होने पर, बटाईदारों का, खतौनी से नाम भिन्नता होने पर एवं हिस्सेदारी पंजीकरण का एसडीएम द्वारा डिजिटल हस्ताक्षर के माध्यम से सत्यापन करने के बाद और भू जोत की निर्धारित अधिकतम सीमा से अधिक भू जोत वाले कृषकों का जिला खरीद अधिकारी/एडीएम लॉगिन से डिजिटल हस्ताक्षर के माध्यम से सत्यापन होगा। उसके बाद ही टोकन जारी किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/ पंकज