कोरोना की वैक्सीन को मोदी वैक्सीन कहने वाले आज मांग रहे नि:शुल्क : योगी आदित्यनाथ

कोरोना की वैक्सीन को मोदी वैक्सीन कहने वाले आज मांग रहे नि:शुल्क : योगी आदित्यनाथ
those-calling-the-corona-vaccine-a-modi-vaccine-are-asking-for-free-today-yogi-adityanath

— सदी की सबसे बड़ी महामारी का सामना कर रही है दुनिया कानपुर, 22 मई (हि.स.)। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहल पर 16 जनवरी से टीकाकरण शुरु हुआ, लेकिन इसमें भी विपक्ष राजनीति का मौका नहीं छोड़ा। वैक्सीन को लेकर कोई कहता था कि यह भाजपा की वैक्सीन है तो कोई इसे मोदी वैक्सीन बताता था। भारत की ही निर्मित दोनों प्रकार की वैक्सीन आज पूरी तरह से सुरक्षात्मक साबित हो रही है। इसको देखते हुए विरोध करने वाले विपक्ष के लोग आज नि:शुल्क वैक्सीन मांग रहे हैं। यह बातें शनिवार को कानपुर पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मीडिया से मुखतिब होते हुए कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान दौर में पूरी दुनिया सदी की सबसे बड़ी महामारी का सामना कर रही है। इन सबके बावजूूद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दूरदर्शिता से सबसे पहले कोरोना वैक्सीन का वैज्ञानिकों ने इजाद कर लिया और 16 जनवरी से वैक्सीन लगना शुरु हो गई। भारत सरकार के सहयोग से 45 वर्ष से अधिक लोगों को नि:शुल्क वैक्सीन लगाई जा रही है और 18 से 44 वर्ष तक के लोगों को राज्य सरकार द्वारा नि:शुल्क वैक्सीन लगाई जा रही है। यूपी आबादी में सबसे बड़ा है, उसके अपेक्षित परिणाम आए हैं। प्रदेश की रिकवरी 93 फीसदी से अधिक है। निगरानी टीम लगातार काम कर रही और ग्रामीणों को मेडिकल किट भी दी जा रही है। रेलवे और वायुसेना की मदद से ऑक्सीजन की सभी शहरों में आपूर्ति करायी है। आज ऑक्सीजन प्रचुर मात्रा मौजूद है, कानपुर मंडल में 30 ऑक्सीजन प्लांट लगाने जा रहे हैं। दूसरी लहर जब पीक पर थी, तो लोगों ने कालाबाजारी की और उन पर एनएसए की कार्रवाई की गई। जारी... हिन्दुस्थान समाचार/अजय/मोहित

अन्य खबरें

No stories found.