खुल गए ऐतिहासिक पीठ दुधेश्वर नाथ मंदिर के कपाट, शुरू हुई पूजा

खुल गए ऐतिहासिक पीठ दुधेश्वर नाथ मंदिर के कपाट, शुरू हुई पूजा
the-doors-of-the-historic-peeth-dudheshwar-nath-temple-opened-worship-started

गाजियाबाद, 08 जून (हि.स.)। ऐतिहासिक पीठ दूधेश्वर नाथ मंदिर के कपाट मंगलवार को दर्शनार्थियों के लिए खोल दिया गया। सुबह से ही श्रद्धालुओं ने भगवान शिव का जलाभिषेक किया और विधि विधान के अनुरूप पूजा अर्चना की। खास बात यह रही कि उन्हीं श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश करने दिया गया जिनके पास या तो वैक्सीन लगवाने का प्रमाण था या फिर 72 घंटे के अंदर की कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट थी। श्रद्धालुओं को कोरोना के नियमों का पालन करने की हिदायत दी गयी है। दरअसल, जस्सीपुरा स्थित दूधेश्वर नाथ मंदिर कोरोना की दूसरे लहर के चलते बंद था। लेकिन गाजियाबाद में एक्टिव केसों की संख्या 600 से कम रहने पर सभी बाजार सोमवार को ही खोल दिए गए थे। दूधेश्वर नाथ मंदिर के कपाट आज सुबह 5:00 बजे खोल दिए गए। इसके बाद श्रद्धालुओं ने पूजा अर्चना शुरू की। मंदिर के महंत नारायण गिरी महाराज ने बताया कि श्रद्धालु तड़के 5 बजे से शाम रात 9 बजे तक मंदिर में प्रवेश कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि मंदिर के अंदर प्रवेश करने से पहले श्रद्धालुओं को वैक्सीनेशन का प्रमाण पत्र दिखाना पड़ रहा है। साथ ही 72 घंटे के अंदर की कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी खानी पड़ रही है। सभी को कोरोना नियमों के पालन करने की हिदायत दी गई है। जैसे सभी को मास्क पहनना अनिवार्य है, साथ ही 2 गज की दूरी का पालन भी करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं को किसी भी मूर्ति को स्पर्श करने की इजाजत नहीं दी गई है। उन्होंने कहा कि आज पहले दिन अच्छी खासी संख्या में श्रद्धालु श्रद्धालु पूजा करने आ रहे हैं। इससे पहले मंदिर को सेनीटाइज किया गया। हिन्दुस्थान समाचार/फरमान अली