उन्नाव में लाॅकडाउन का पालन कराने ‘‘थानेदार‘‘ हुए फेल तो गिर सकती गाज!
उन्नाव में लाॅकडाउन का पालन कराने ‘‘थानेदार‘‘ हुए फेल तो गिर सकती गाज!
उत्तर-प्रदेश

उन्नाव में लाॅकडाउन का पालन कराने ‘‘थानेदार‘‘ हुए फेल तो गिर सकती गाज!

news

उन्नाव में लाॅकडाउन का पालन कराने में ‘‘थानेदार‘‘ हुए फेल तो गिर सकती गाज! - पूर्व के लाॅकडाउन में कई थानेदार रहे फिसड्डी, एसपी ने दी थी नसीहत उन्नाव,24 जुलाई (हि.स)। प्रदेश में बढ़ रहे प्रतिदिन कोरोन मरीजो की संख्या को लेकर सरकार की मंशा है कि रोकथाम के लिए मिनी लाॅकडाउन का शत प्रतिशत पालन कराया जाए। लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन कराने की जिम्मेदारी पुलिस विभाग को मिली हुई है। लेकिन पुलिस महकमा इसमें पूरी तरह अभी तक फेल नजर आया है। पूर्व के मिनी लाॅकडाउन में कई थानेदारो की लापरवाही सामने आने पर एसपी ने जमकर फटकार लगाते हुए नसीहत भी दी थी। मगर अब देखना यह है कि आने वाले मिनी लाॅकडाउन का थानेदार कितना पालन करा पाएंगे और यह उनकी अग्नि परीक्षा से कम नही है। सरकार ने शुक्रवार की देररात से सोमवार भोरहपहर तक लाकडाउन करने के निर्देश दिए थे। सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से अनुपालन कराने का निर्देश पुलिस प्रशासन को सौंपा गया है। पूर्व के लाॅकडाउन में अचलगंज, मांखी, मौरावां, पुरवा, बांगरमऊ, असोहा गंगाघाट थानो की पुलिस फेल नजर आई थी। उधर, क्षेत्र में लाॅकडाउन का पालन सही से न कराने पर एसपी रोहन पी कनय ने वायरलेस सेट पर सभी थानेदारो की समीक्षा करते हुए आने वाले लाॅकडाउन में शत प्रतिशत पालन कराने के निर्देश दिए थे। अब देखना यह होगा कि शुक्रवार की देररात से शुरू हुए मिनी लाॅकडाउन का एसपी की नसीहत के बाद उनके मातहत किस तरह पालन कराएगें। असफल हुए निरीक्षक को एसपी ने किया था निलंबित लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का अपने क्षेत्र में पालन कराने में असफल हुए बांगरमऊ निरीक्षक श्याम कुमार पाल को एसपी ने 21 जुलाई को निलंबित कर महकमें की धड़कने बढ़ा दी थी। माना यह जा रहा कि इस बार के मिनी लाॅकडाउन में यदि थानेदार फेल हुए तो कार्रवाई हो सकती है। सेलो व शाखो से लगाई गई डयूटी जिले में लाॅकडाउन का शत प्रतिशत पालन हो, इसके लिए विभिन्न सेलो व शाखाओ में तैनात करीब 200 पुलिस कर्मियों की डयूटी अलग-अलग थाना क्षेत्रो में लगाई गई है। यह पुलिस कर्मी डयूटी पर तैनात होकर लाॅकडाउन का पालन कराएंगे। हिन्दुस्थान समाचार/अरूण कुमार दीक्षित/मोहित-hindusthansamachar.in