Teachers union handed over 10 point demand letter to Sadar MLA
Teachers union handed over 10 point demand letter to Sadar MLA
उत्तर-प्रदेश

शिक्षक संघ ने सदर विधायक को सौंपा 10 सूत्रीय मांग पत्र

news

औरैया, 29 दिसम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने प्रदेश नेतृत्व के आवाहन पर जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन देने का निश्चय किया था। जिसके तहत मंगलवार को पदाधिकारियों ने सदर विधायक रमेश दिवाकर को ज्ञापन सौंपकर शिक्षक समुदाय की समस्याओं का निदान कराए जाने की मांग की है। शिक्षक संगठन के जिला अध्यक्ष सुनील कुमार मिश्र, राम प्रकाश दीक्षित, गोविंद कुमार, संजय कुमार शुक्ल, अमित कुमार त्रिपाठी, सतीश चतुर्वेदी, संतोष कुमार, अरविंद कुमार सिंह एवं पुत्तू बाबू ने दिए ज्ञापन में बताया कि शिक्षक समुदाय का निश्चित मत है कि एनपीएस योजना शिक्षक की वृद्धा अवस्था में उसे जीवन स्तर के साथ जीवन यापन करने के योग्य नहीं है। इसलिए पुरानी पेंशन वृद्धावस्था का समुचित जीवन स्तर बनाए रखने का माध्यम है, जिसे सरकार बहाल करें। वित्तविहीन विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों को भी समान कार्य के लिए समान वेतन के सिद्धांत पर वेतन एवं समानता के आधार पर सेवा शर्तें लागू की जाएं। मांग की कि महंगाई दिन प्रीत दिन बढ़ती जा रही है। महंगाई भत्ते में जो कटौती की गई है उसको वापस किया जाए। विद्यालयों में कार्यरत कंप्यूटर तथा व्यवसायिक शिक्षक पूर्णकालिक शिक्षक के रूप में शिक्षण कार्य करें तथा उन्हें समान कार्य के लिए समान वेतन के सिद्धांत के आधार पर वेतन दिया जाए। सहायक विद्यालयों में मान्यता की धाराओं के अंतर्गत नियुक्त शिक्षकों को उच्चतम न्यायालय के दिए गए निर्देशों के अनुसार समान कार्य के लिए समान वेतन की व्यवस्था सुनिश्चित हो। विनियमितीकरण से वंचित तदर्थ शिक्षकों को विनियमित किया जाए। सभी शिक्षकों को निशुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाए। महिला शिक्षकों को अनुमन्य अवकाश की सुविधा हो, शिक्षकों के स्थानांतरण की नीति में आवश्यक संशोधन कर ऐसी स्थिति सुनिश्चित की जाए, जिससे शिक्षक अपनी सुविधानुसार स्थान पर स्थानांतरण करा सके। सामूहिक बीमा जो 2014 से बंद कर दिया गया है उसे पुनः लागू किया जाए। ज्ञापन के माध्यम से उन्होंने अपील की कि सभी मांगों की पूर्ति की स्थिति से 30 दिसंबर तक उन्हें अवगत कराया जाए। जिससे 31 दिसंबर को संगठन के स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर माध्यमिक शिक्षक संघ नई रणनीति बनाकर कार्यक्रम निर्धारित कर सके। हिन्दुस्थान समाचार/ सुनील-hindusthansamachar.in