take-a-pledge-to-forget-discrimination-on-the-occasion-of-world-social-justice-day-hriday-narayan
take-a-pledge-to-forget-discrimination-on-the-occasion-of-world-social-justice-day-hriday-narayan
उत्तर-प्रदेश

विश्व सामाजिक न्याय दिवस पर भेदभाव भुलाकर मानवीय अधिकारों के सम्मान का लें प्रण : हृदय नारायण

news

लखनऊ, 20 फरवरी (हि.स.)। उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने 'विश्व सामाजिक न्याय दिवस' पर सभी से धर्म, जाति आदि का भेदभाव भुलाकर मानवीय अधिकारों के सम्मान का प्रण लेने की अपील की है। विधानसभा अध्यक्ष ने शनिवार को कहा कि विश्व सामाजिक न्याय दिवस पर आइए हम सब मिलकर जाति, धर्म, वंश, वर्ग के सारे भेदभाव को भुलाकर एक-दूसरे के मानवीय अधिकारों का सम्मान करने का प्रण लें। उन्होंने कहा कि सजग एवं बेहतर समाज का निर्माण इस दिवस की परिकल्पना में अंतर्निहित है। विश्व भर में 20 फरवरी को 'विश्व सामाजिक न्याय दिवस' मनाया जाता है। हर किसी व्यक्ति को बिना किसी भेदभाव के समान रूप से, न्याय मिल सके और सामाजिक न्याय को बढ़ावा मिल सके, इस उद्देश्य के साथ इस दिन को मनाया जाता है। इस दिन के लिए इस वर्ष की थीम 'डिजिटल अर्थव्यवस्था में सामाजिक न्याय के लिए एक बुलावा' रखी गई है। वर्ष 2007 में संयुक्त राष्ट्र के द्वारा इस दिन को मनाने की सार्वजनिक रूप से घोषणा की गई थी। इसके बाद वर्ष 2009 में इस दिन को पहली बार पूरे विश्व में मनाया गया था। आज के समय में दुनिया में लोगों के बीच किसी ना किसी वजह से भेदभाव पैदा हो रहा है। इसी वजह से लोग एक दूसरे से उचित दूरी भी बना रहे हैं। ऐसे में कई लोगों को भारी परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है। इस तरह की बुराइयों को खत्म कर लोगों में एकजुटता लाने के लिए विश्व सामाजिक न्याय दिवस बेहद महत्वपूर्ण है। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/दीपक