Taj city reaches, first shipment of Corona vaccine
Taj city reaches, first shipment of Corona vaccine
उत्तर-प्रदेश

ताज नगरी पहुंची, कोरोना टीके की पहली खेप

news

ताज नगरी पहुंची, कोरोना टीके की पहली खेप आगरा, 14 जनवरी (हि.स.)। बहुप्रतिक्षित कोविड-19 का टीका गुरूवार को आगरा पहुंच गया। बुधवार रात को लखनऊ से आगरा के लिए कोविड-19 टीके की खेप रवाना हुई थी, जो आज आगरा पहुंच गई। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. आर. सी. पांडेय ने बताया कि गुरुवार को कोविशील्ड वैक्सीन की 26280 डोज आगरा पहुंच गई हैं और उन्हें सुरक्षित सीएमओ कार्यालय में बने टीका भंडारण केंद्र में चार आइस लाइंड रेफ्रिजरेटर (आईएलआर) -2 से -8 डिग्री सेल्सियस तापमान पर रखवा दिया गया है। यहां से ये वैक्सीन टीकाकारण केंद्रों पर पहुंचाई जाएंगी। उन्होंने बताया कि वैक्सीन को तय मानकों के अनुरूप आइस लैंड रेफ्रिजरेटर (आईएलआर) में रखा गया है। सीएमओ कार्यालय से इन्हें सभी टीकाकरण केंद्रो पर आवश्यकतानुसार पहुंचाया जाएगा । यानी जिस केंद्र पर जितने लाभार्थी हैं, उतनी ही वैक्सीन पहुंचाई जाएंगी। अन्य वैक्सीन जनपद के वैक्सीन डिपो में सुरक्षित रखी जाएंगी। उन्होंने बताया कि एक वायल में से दस लाभार्थियों को टीका लगाया जाएगा। एक वायल में पांच एमएल दवा है, प्रत्येक लाभार्थी को 0.5 मिलीलीटर का टीका लगाया जाएगा। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि 16 जनवरी को जनपद में छ: टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण किया जाएगा। इसके लिए पहले ही प्रशिक्षण और पूर्वाभ्यास कराया जा चुका है। पहले चरण के लिए पर्याप्त मात्रा में कोविड-19 टीके की खेप आ चुकी है । अभी जनपद के सरोजनी नायडू मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, लेडी लॉयल, पुष्पांजलि हॉस्पिटल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खंदौली और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एत्मादपुर में कोविड-19 टीकाकरण किया जाएगा। प्रत्येक टीकाकरण केंद्र के लिए एक-एक प्रभारी की नियुक्त की गई है। पहले चरण में 18901 स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण किया जाना है। हर केंद्र पर पांच लोगों की टीम होगी और पुलिस कर्मी भी तैनात किए जाएंगे। पहले से पंजीकृत लाभार्थी को कोविड-19 का टीका लगवाने के एसएमएस के द्वारा एक दिन पहले सूचित कर दिया जाएगा। इसके बाद उसे टीकाकरण केंद्र पर तीन चरणों से होकर गुजरना होगा। पहले उसे प्रतीक्षालय में अपनी बारी का इंतजार करना होगा। इसके बाद अपनी जानकारी देने के बाद उसे टीकाकरण कक्ष में टीका लगाया जाएगा। फिर उसे 30 मिनट तक निगरानी कक्ष में रुकना होगा। कोई परेशानी न होने पर लाभार्थी अपने घर जा सकेगा। 28 दिन बाद उसे टीके की दूसरी डोज दी जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/संजीव जूरैल-hindusthansamachar.in