उत्तर-प्रदेश

गंगा किनारे शिव लिंग बना पांडेश्वर नाथ की झांकी सजाई

news

भंडारे का आयोजन कर लगे बाबा के जयकारे फर्रुखाबाद,27 जुलाई (हि.स.) । शिव मंदिरों के कपाट बंद होने के बाद भी शिव भक्तों की आस्था को कोरोना रोक नही सका।सावन के चौथे सोमवार को गंगा किनारे एकत्रित हुए श्रद्धालुओं नें रेत के पार्थिव पांडेश्वरनाथ शिवलिंग बनाकर उनकी पूजा अर्चना की| जिसके बाद भंडारे का आयोजन भी किया गया| पतित पावनी मां गंगा के तट पर आज सावन के चौथे सोमवार को जय भोले बाबा कमेटी के सौजन्य से दुर्वासा ऋषि आश्रम के निकट बाबा भोलेनाथ का विशेष रूप देकर भक्तों ने बाबा का श्रृंगार पूजा आरती और बाबा के जयकारे लगाए। गंगा तट पर आज बालू से बाबा पांडेश्वर नाथ की स्थापना कर फूल माला बेलपत्र धतूरा दूध घी और शहद से बाबा का अद्भुत सिंगार किया गया। वही भक्तों ने बाबा के जयकारे लगाए और मां गंगा की पूजा आरती आदि की इसके बाद भक्तों को प्रसाद वितरण किया गया इस मौके पर कमेटी के अध्यक्ष प्रमोद द्विवेदी नें बताया कि साबन के पहले सोमवार से अंतिम सोमवार तक प्रतिदिन नये पार्थिव शिवलिंग बनाकर उनकी पूजा की जा रही है| इसके साथ ही प्रतिदिन भंडारे का आरोजन भी होता है| उनके सहयोगी गणों ने बड़ चढ़कर हिस्सा लिया ।जिसमें जीतू बाजपेई पवन दिवाकर, प्रिंस पांडे ,सोनू शुक्ला, नीरज बाजपेई, विपिन बाजपेई, राजा द्विवेदी, राजीव शुक्ला ,प्रभाकर शुक्ला, मनू दुवेसौरभ श्रीवास्तव पुन्नू बाजपेई, दीपक गुप्ता , अंकित दुबे ,राघवेंद्र मिश्रा ,राम मोहन शुक्ला आदि सैकड़ों भक्त उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार/चन्द्रपाल/मोहित-hindusthansamachar.in