shankaracharya-vasudevanand-released-39jyotish-panchjanya-multidimensional39
shankaracharya-vasudevanand-released-39jyotish-panchjanya-multidimensional39
उत्तर-प्रदेश

शंकराचार्य वासुदेवानंद ने 'ज्योतिष पांचजन्य बहुआयामी' का किया विमोचन

news

प्रयागराज, 19 फरवरी (हि.स.)। इलाहाबाद उच्च न्यायालय के अधिवक्ता पंकज कुमार राजमूर्ति द्वारा लिखित पुस्तक 'ज्योतिष पांचजन्य बहुआयामी' का विमोचन शुक्रवार को अलोपीबाग स्थित शंकराचार्य आश्रम में जगतगुरू स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती जी महाराज ने किया। इस अवसर पर शंकराचार्य ने ज्योतिष जैसे प्राचीन विधा को संरक्षित करने और इसका लाभ जन-जन तक पहुंचाने के साथ ही सनातन धर्म के प्रचार-प्रसार और उसके संरक्षण पर बल देने की बात कही। उन्होंने सभी उपस्थित जनों से अपने सनातनी संस्कार को बचाए रखने की अपील की और सबको शुभकामनाएं एवं आशीर्वाद दिया। उल्लेखनीय है कि शंकराचार्य श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के न्यासी भी हैं। इस पुस्तक को ज्योतिष शास्त्र के ज्ञात-अज्ञात सभी ऋषियों-मुनियों को समर्पित किया गया है। पुस्तक की प्रस्तावना राज बहादुर उपाध्याय ने लिखी है। पुस्तक में कुल पांच अध्याय हैं, जिसमें ज्योतिष की बारीकी से व्याख्या की गई है। विमोचन अवसर पर प्रयागराज फाउंडेशन के अध्यक्ष शशांक शेखर पांडेय, स्वदेशी जागरण मंच प्रतापगढ़ के जिला संयोजक दत्तात्रेय पांडेय, भाजपा महिला मोर्चा की महानगर अध्यक्ष माया द्विवेदी, वंदना शर्मा, रंजना मिश्रा, सरिता शर्मा, अभिनव मिश्रा, संजीव उपाध्याय सहित कई लोग उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त