सात वर्ष पुराना तबादला आदेश को अब लागू करने पर रोक

सात वर्ष पुराना तबादला आदेश को अब लागू करने पर रोक
seven-year-old-transfer-order-now-stopped-to-be-implemented

प्रयागराज, 22 मई (हि.स.)। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि कर्मचारियों के तबादले सेवा जरूरतों के अनुसार किये जाते है। परन्तु 2014 में हुए तबादले को 2021 लागू करना प्रथमदृष्टया अवैध है। कोर्ट ने तबादला आदेश के अमल पर रोक लगाते हुए विभाग से जवाब तलब किया है। कोर्ट ने डीआईजी शामली रेन्ज के 23 जून 14 व एसपी शामली के 25 मार्च 21 के तबादला आदेश को निलम्बित कर दिया है। कोर्ट ने कहा है कि याची को कार्यमुक्त न किया जाय। कोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब मांगा है। कोर्ट ने कहा है कि याची को शामली से कार्यमुक्त कर सहारनपुर में कार्यभार ग्रहण करने के लिए विवश न किया जाय तथा उसे नियमित वेतन भुगतान किया जाय। हाईकोर्ट याचिका पर अंतरिम राहत देते हुए कहा कि तबादला नीति के तहत नये सिरे से तबादला करने के लिए यह अंतरिम आदेश अधिकारी के लिए बाधक नहीं होगा। सरकार चाहे तो तबादला करने के लिए स्वतंत्र है। याचिका की सुनवाई 14 जून को होगी। यह आदेश न्यायमूर्ति जे जे मुनीर ने संजीव कुमार की याचिका पर दिया है। याचिका में कहा गया है कि सात साल पहले हुए तबादले को अब लागू किया जा रहा है। एसपी शामली ने याची को कार्यमुक्त कर सहारनपुर में कार्यभार ग्रहण करने का निर्देश दिया है, जो तबादला नीति के खिलाफ है। हिन्दुस्थान समाचार/आर.एन