फिरोजाबाद की सात ग्राम पंचायतों को उत्कृष्ट कार्य के लिये मिलेगा पुरस्कार

फिरोजाबाद की सात ग्राम पंचायतों को उत्कृष्ट कार्य के लिये मिलेगा पुरस्कार
seven-gram-panchayats-of-firozabad-will-get-awards-for-outstanding-work

- फिरोजाबाद ब्लाक को मिलेगा राष्ट्रीय पुरस्कार फिरोजाबाद, 18 अप्रैल (हि.स.)। जनपद की सात ग्राम पंचायतों को आगामी 24 अप्रैल को पंचायती राज दिवस के अवसर पर उत्कृष्ट कार्य के लिये सम्मानित किया जायेगा। इन सात ग्राम पंचायतों में दो ग्राम पंचायतों को केन्द्र व पांच को प्रदेश सरकार द्वारा पुरस्कार के लिये चयनित किया गया है। इसके साथ ही फिरोजाबाद ब्लाक को राष्ट्रीय पुरस्कार सूची में शामिल किया गया है। केन्द्र व प्रदेश सरकार विभिन्न योजनाओं के माध्यम से उत्कृष्ट कार्य करने वाली ग्राम पंचायतों को प्रोत्साहित करने के उद्धेश्य से उन्हें प्रमाण पत्र व प्रोत्साहन राशि देकर सम्मानित करती है। जिससे इन ग्राम पंचायतों में विकास का पहिया और तेजी से घूम सके और धन की कमी आडे़ न आवे। इसके साथ ही अन्य ग्राम पंचायतें भी इन ग्राम पंचायतों से कुछ सीख सकें। जिला पंचायत राज अधिकारी नीरज सिन्हा ने बताया कि पण्डित दीन दयाल उपाध्याय सशक्तिकरण योजना के तहत प्रदेश की 24 ग्राम पंचायतों को पुरस्कृत किया जायेगा। इस योजना के लिये जनपद की 90 ग्राम पंचायतों ने आवेदन किया था। जिसमें दो ग्राम पंचायतों शिकोहाबाद की शाहपुर और मदनपुर ब्लाक की डडियामई ग्राम पंचायत को पुरस्कार मिला है। वहीं राष्ट्रीय पुरस्कार योजना में फिरोजाबाद ब्लाक का चयन हुआ है। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत प्रदेश की चार ग्राम पंचायतों ने यह पुरस्कार पाया है। जिसमें फिरोजाबाद जिला भी शामिल है। इसके अलावा प्रदेश स्तर पर मुख्यमंत्री पंचायत प्रोत्साहन पुरस्कर योजना के तहत इस जनपद से कुल 116 ग्राम पंचायतों ने आवेदन किया था। एक जनपद से अधिकतम पांच लोगों को यह पुरस्कार प्राप्त होता है। जिसमें जसराना ब्लाक की ग्राम पंचायत कटोरा को प्रथम, शिकोहाबाद ब्लाक की डाहिनी ग्राम पंचायत को द्वितीय, नारखी ब्लाक की गढ़ी श्रीराम ग्राम पंचायत को तृतीय, टूण्डला की धर्मपुरा ग्राम पंचायत को चतुर्थ व मदनपुर ब्लाक की एलमपुर ग्राम पंचायत को पांचवा स्थान प्राप्त हुआ है। डीपीआरओ ने बताया कि यह पुरस्कार 24 अप्रैल को पंचायती राज दिवस के अवसर पर दिया जायेगा। प्रोत्साहन राशि पंचायत के खातों में भेजी जायेगी। वर्तमान प्रशासक इस राशि को खर्च नही कर सकेंगे। इस राशि को नवगठित पंचायत के प्रधान खर्च करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/कौशल राठौर