11 हजार गांवों तक सेवा भारती कार्यकर्ताओं ने पहुंचायी आयुष 64 : डॉ देवेंद्र

11 हजार गांवों तक सेवा भारती कार्यकर्ताओं ने पहुंचायी आयुष 64 : डॉ देवेंद्र
seva-bharti-workers-reach-ayush-64-to-11-thousand-villages-dr-devendra

लखनऊ, 22 मई(हि. स.)। वरिष्ठ समाजसेवी और सेवा भारती के अवध प्रांत के संरक्षक डॉक्टर देवेंद्र अस्थाना ने बताया कि आयुष 64 दवा को सेवा भारती के कार्यकर्ताओं ने 11 हजार गांवों तक पहुंचाया है। भारत सरकार के आयुष मंत्रालय के अधीनस्थ केन्द्रीय आयुर्वेदीय विज्ञान परिषद द्वारा निर्मित आयुर्वेदिक दवा आयुष 64 का वितरण सेवा भारती के माध्यम से अवध प्रान्त के सभी गांवों किया जा रहा है। डॉ. अस्थाना ने बताया कि लखनऊ के क्षेत्रीय आयुर्वेदीय विज्ञान अनुसन्धान केन्द्र को पूर्वी उत्तर प्रदेश के लगभग सभी जिलों के लिये नोडल सेंटर बनाया गया है। संस्थान के डॉ. संजय कुमार व डॉ वी.के. श्रीवास्तव को नोडल अधिकारी कार्य बखूबी निभा रहे है। उन्होंने बताया कि नोडल सेंटर से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना महामारी से ग्रसित उन रोगियों को आयुष 64 दे रहे हैं, जो एसिंप्टोमेटिक (अलाक्षणिक), माइल्ड एवं मॉडरेट लक्षणों वाले रोगी हैं और वे होम आइसोलेशन में है। अवध प्रान्त के लगभग 11 हजार 700 गाँवों में यह दवा कोरोना संक्रमित लोगों को दी जा रही है। समाज कार्य में जुटे डॉ. अशोक दुबे ने बताया कि आयुष 64 दवा बनाते हुए इसमें सप्तपर्णी का तना, कुटकी की जड़, चिरायता का पञ्चाङ्ग तथा कुबेराक्ष के बीज का चूर्ण जैसी भारतीय बहुमूल्य जड़ी-बूटियों को मिलायी गयी है। बता दें कि सेवा भारती के कार्यकर्ताओं ने दवा वितरण के लिए चार स्थानों का चयन किया है। दवा वितरण इंदिरा नगर सेक्टर-ए के सरस्वती विद्या मंदिर में, अलीगंज सेक्टर क्यू सरस्वती विद्या मंदिर में, आलमबाग के पास मुंडा वीर मंदिर एवं रकाबगंज में और सेवा भारती के कार्यालय भरत भवन से किया जा रहा है। आयुष 64 से संबंधित उपलब्धता के लिये एम.बी.राजावत 9415523037, डॉ अनुपम 9839288764 व पवन मिश्रा 9453178861 से कोई भी व्यक्ति संपर्क कर सकता है। हिन्दुस्थान समाचार/शरद

अन्य खबरें

No stories found.