मेरठ के प्रवर अधीक्षक डाकघर उग्रसेन का कोरोना से निधन

मेरठ के प्रवर अधीक्षक डाकघर उग्रसेन का कोरोना से निधन
senior-superintendent-of-meerut-post-office-ugrasen-died-from-corona

मेरठ, 07 मई (हि.स.)। मेरठ मंडल के प्रवर अधीक्षक डाकघर उग्रसेन की कोरोना से मौत हो गई। उनका बरेली के अस्पताल में उपचार चल रहा था। उनके निधन से पूरे डाक विभाग में शोक की लहर दौड़ गई। बरेली निवासी उग्रसेन मेरठ मंडल के प्रवर अधीक्षक डाकघर के पद पर मेरठ में तैनात थे। 52 वर्षीय उग्रसेन को कोरोना संक्रमित होने पर गंगानगर स्थित आईआईएमटी लाइफलाइन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। एक सप्ताह पहले हालत में सुधार नहीं होने पर परिजन उन्हें उपचार के लिए बरेली ले गए थे। वहां पर उनकी हालत में सुधार नहीं हो पाया और शुक्रवार को उनका निधन हो गया। उनके निधन से डाक विभाग में शोक की लहर दौड़ गई है। डाक विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया और इसे विभागीय क्षति बताया। सात दिसम्बर 2020 को मेरठ में उग्रसेन ने प्रवर अधीक्षक डाकघर का पदभार संभाला था। डाक विभाग में उनकी अच्छे अधिकारी के रूप में पहचान थी। मेरठ में भी उन्होंने आधार कार्ड बनाने की व्यवस्था में काफी सुधार किया था। अच्छे कार्यों के लिए उन्हें डाक सेवा अवार्ड से पुरस्कृत किया था। इससे पहले कैंट प्रधान डाकघर के डाक सहायक अंकुर की कोरोना से मौत हो चुकी है। अब घंटाघर स्थित प्रधान डाकघर के सीनियर पोस्टमास्टर एमपी भारद्वाज भी कोरोना संक्रमित है। इससे डाक विभाग के कर्मचारियों में दहशत व्याप्त है। हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप