sdm-misbehaved-with-businessman-and-vhp-leader-traders-surrounded-kotwali-road-jam
sdm-misbehaved-with-businessman-and-vhp-leader-traders-surrounded-kotwali-road-jam
उत्तर-प्रदेश

व्यवसायी व विहिप नेता से एसडीएम ने की बदसलूकी, व्यापारियों ने कोतवाली को घेरा, सड़क जाम

news

आजमगढ़, 06 अप्रैल (हि.स.)। जिले में दो दिनों में 124 कोरोना संक्रमित पाये जाने के बाद कोविड-19 के नियमों का अनुपालन कराने पुलिस बल के साथ शहर क्षेत्र में भ्रमण पर निकले एसडीएम सदर ने जिले के प्रतिष्ठित सर्राफा व्यवसायी व विश्व हिन्दू परिषद के जिला कोषाध्यक्ष के साथ बदसलूकी कर दी। यही नहीं पूरे प्रशासनिक अमले के सामाने व्यापारी को दुकान से खिंचकर बाहर निकाला और वाहन में ठूसकर कोतवाली ले गयी। इस दौरान कुछ व्यापारियों ने विरोध भी किया, लेकिन पुलिस के आगे किसी की नहीं चली। जानकारी के बाद शहर के व्यापारी आक्रोशित हो गये। सैकड़ों की संख्या में आक्रोशित व्यापारी, विभिन्न राजनीतिक दलों के लोग और समाजसेवियों ने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए शहर कोतवाली पहुंचे और कोतवाली का घेराव कर धरना प्रदर्शन किया। इसके साथ ही करीब तीन बजे व्यापारियों ने शहर कोतवाली के सामने सड़क जामकर प्रदर्शन कर रहे है। मंगलवार की दोपहर में एसडीएम सदर गौरव कुमार व क्षेत्राधिकारी नगर डा. राजेश तिवारी भारी पुलिस के साथ कोविड-19 का अनुपालन कराने के लिए शहर में पैदल भ्रमण पर निकले। प्रशासनिक अमला शहर के पुरानी कोतवाली स्थित सर्राफा मंडी से गुजर रहा था, तभी बगैर मॉस्क लगाए अपने प्रतिष्ठान पर बैठे शहर के प्रतिष्ठित सर्राफा व्यवसायी व विहिप के जिला कोषाध्यक्ष आशीष गोयल को देखा। आरोप है कि उनके प्रतिष्ठान पर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों ने सर्राफा व्यवसायी के साथ अभद्रता की। व्यापारी ने जब इसका विरोध किया तो पुलिस ने दुकान से खिंचकर व्यपारी को हिरासत में ले लिया। इस दौरान भीड़-भाड़ वाले सर्राफा मंडी में करीब बीस मिनट तक व्यापारी और पुलिस में नोंकझोंक चलती रही। किसी तरह से व्यापारी को वाहन में ठूंसकर पुलिस शहर कोतवाली लायी और बंद कर दिया। इस घटना से आक्रोशित व्यवसायी भी मौके पर पहुंचे। व्यवसायी के साथ हुई बदसलूकी से नाराज व्यापारी प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए शहर के दुकानदारों से विरोध स्वरूप प्रतिष्ठान बंद करने एवं कोतवाली का घेराव करने की अपील करते हुए आगे बढ़े। सैकड़ों की संख्या में व्यापारी समाज शहर कोतवाली पहुंचा और कोतवाली परिसर में ही धरने पर बैठ गया। जानकारी के बाद भाजपा सहित विभिन्न राजनीतिक दलों, समाजसेवी भी शहर कोतवाली पहुंचे और धरने में शामिल हो गये। करीब तीन बजे पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह भी कोतवाली पहुंचे और प्रदर्शन कर रहे लोगों से लिखित शिकायत की मांग की, कुछ कहते इससे पहले आक्रोशित लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। घटना से व्यापारी इतने नाराज हुए कि एसपी की बात को अनसुना कर शहर कोतवाली के सामने चक्का जामकर सरकार और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव