सरदार उधम सिंह ने अपनी जिंदगी आजादी की जंग के नाम कर दी थी : अरविंद
सरदार उधम सिंह ने अपनी जिंदगी आजादी की जंग के नाम कर दी थी : अरविंद
उत्तर-प्रदेश

सरदार उधम सिंह ने अपनी जिंदगी आजादी की जंग के नाम कर दी थी : अरविंद

news

झांसी, 31 जुलाई (हि.स.)। शहर कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में महान क्रांतिकारी उधम सिंह का बलिदान दिवस और मुंशी प्रेमचंद की जयंती मनाई गई। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में भारत सरकार के पूर्व मंत्री प्रदीप जैन आदित्य रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अरविंद वशिष्ठ ने की। मुख्य अतिथि प्रदीप जैन ने कहा कि उधम सिंह महान क्रांतिकारी थे। उन्होंने 13 अप्रैल 1919 गोवा में सरकार द्वारा अमृतसर के जलियांवाला में दिए गए हत्याकांड का बदला लिया, वह उस वक्त उसी बाग में मौजूद थे। उन्होंने अंग्रेजों की गोली से लोगों को मरते देखा तभी से उन्होंने बदला लेने की कसम ली जनरल डायर को मारकर अपना बदला पूरा किया। इस क्रांतिकारी वीर को आज के दिन ही 1940 में पेंटनविले जेल में फांसी दे दी गई थी। अरविंद वशिष्ठ ने कहा कि वीर उधम सिंह ने जलियांवाला बाग के सामूहिक नरसंहार के बाद में भाग लेने का फैसला किया और अपनी जिंदगी आजादी की जंग के नाम कर दी और उन्होंने उस नरसंहार का बदला लेने के पंजाब प्रांत के गवर्नर रहे माइकल ओ डायर को उसके ही देश में खुलेआम गोली मार दी। इस दौरान राजेंद्र शर्मा एडवोकेट, विनय उपाध्याय, सौरभ साहू, शिवम नायक, दुलीचंद कुशवाहा, अनु श्रीवास्तव राकेश अमरया, मनीष रायकवार, अमित चक्रवर्ती आदि ने विचार व्यक्त किए। सभा का संचालन वरिष्ठ गांधीवादी नेता राजेंद्र रेजा व सभी का आभार डा. विजय भारद्वाज ने व्यक्त किया। हिन्दुस्थान समाचार/महेश/मोहित-hindusthansamachar.in