50 घंटे बाद भी जिला पंचायत की आधा दर्जन सीटों के परिणाम अटके

 50 घंटे बाद भी जिला पंचायत की आधा दर्जन सीटों के परिणाम अटके
results-of-half-a-dozen-seats-of-zilla-panchayat-stuck-even-after-50-hours

जिला पंचायत की रिहुटा की सीट में हो रही है पुनः मतगणना हमीरपुर, 04 मई (हि.स.)। जिला पंचायत की 17 सीटों में से 12 के चुनाव परिणाम जारी हो गए हैं वहीं 50 घंटे बाद भी मतगणना का काम चल रहा है। जिला पंचायत की रिहुटा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी प्रमोद सिंह की शिकायत पर पुनः मतगणना कराई जा रही है। जबकि सपा प्रत्याशी राम सजीवन यादव का कहना है कि सत्ता पक्ष के इशारे पर चुनाव परिणाम में हेराफेरी की जा सकती है इसीलिए पुनः मतगणना कराई जा रही है इस आशंका को देखते हुए सपाइयों ने गोहांड ब्लाक परिसर के बाहर डेरा जमा लिया है। बड़ी तादाद में सपाई वहां बैठे हुए हैं। जिला पंचायत की टेढ़ा सीट से बसपा समर्थित रामदुलारी विजयी घोषित की गई है रामदुलारी को 6779 मत प्राप्त हुए हैं। इसी प्रकार जिला पंचायत की पौथिया सीट से भाजपा समर्थित हरिओम सेंगर 6352 मत प्राप्त कर विजयी घोषित किए गए। जिला पंचायत की छानी खुर्द सीट से श्रीमती सुमन 5966 मत प्राप्त कर विजयी घोषित हुई। जिला पंचायत की वीरा सीट से श्रीमती दीपा 6322 मत प्राप्त कर विजयी घोषित की गई। जिला पंचायत की इंगोहटा सीट से दुष्यंत सिंह परिहार 5720 मत पाकर विजयी घोषित किए गए। जिला पंचायत की मुस्कुरा सीट से 9518 श्रीमती सुनीता विजयी घोषित की गई वहीं जिला पंचायत की बिवार सीट से अनुज कुमार 2059 मत पाकर विजई घोषित किए गए। जिला पंचायत की जरिया सीट से मदन कुमार 5176 मत प्राप्त कर विजयी घोषित किए गए। जिला पंचायत की जलालपुर सीट से डॉ वंदना यादव 13581 मत पाकर विजयी घोषित की गई। जिला पंचायत की कुरारा देहात, झलोखर, नौरंगा, अरतरा, रिहुटा, सैदपुर के परिणाम आने बाकी हैं। जिला पंचायत की रिहुटा सीट से सपा समर्थित प्रत्याशी राम सजीवन यादव पहली बार की मतगणना में 471 मतों से चुनाव जीत गए थे किंतु भाजपा समर्थित प्रत्याशी प्रमोद सिंह की शिकायत पर इस सीट पर पुनः मतगणना कराई जा रही है। सपा समर्थित प्रत्याशी राम सजीवन यादव ने बताया कि पहली बार की मतगणना में 7458 मत प्राप्त हुए थे जबकि भाजपा समर्थित प्रत्याशी प्रमोद सिंह को 6987 मत प्राप्त हुए है। राम सजीवन का आरोप है कि चुनाव में गड़बड़ी कराने के उद्देश्य से पुनः मतगणना कराई जा रही है। उनको आशंका है कि चुनाव में हेराफेरी कर सत्ता पक्ष द्वारा परिणाम प्रभावित कराए जा सकते हैं। उन्होंने इस बात की शिकायत चुनाव आयोग कमिश्नर चित्रकूट धाम मंडल बांदा व जिला निर्वाचन अधिकारी के अलावा मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर भी शिकायत की है। हिन्दुस्थान समाचार/ पंकज/