preparing-to-vaccinate-corona-vaccine-to-population-of-three-lakhs
preparing-to-vaccinate-corona-vaccine-to-population-of-three-lakhs
उत्तर-प्रदेश

तीन लाख की आबादी को कोरोना टीका लगाने की तैयारी

news

जिले में करीब तीन लाख के आसपास 45 पार आबादी स्वास्थ्य विभाग ने नए आदेश का माइक्रोप्लान बनाना शुरू किया हमीरपुर, 24 मार्च (हि.स.)। स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना पर काबू पाने को लेकर अब एक अप्रैल से 45 साल के पार सभी लोगों के टीकाकरण की तैयारी शुरू कर दी है। जिले की ग्यारह लाख की आबादी में 45 साल से ऊपर की आबादी का आंकड़ा करीब तीन लाख के आसपास है। इतनी बड़ी संख्या में टीकाकरण को लेकर विभाग ने माइक्रोप्लान बनाना शुरू कर दिया है। ऑन लाइन रजिस्ट्रेशन कराकर अस्पताल पहुंचने वालों को टीकाकरण में वरीयता मिलेगी। मौके पर भी लाभार्थियों का रजिस्ट्रेशन कर टीकाकरण किया जाएगा। मई 2020 से जिले में दस्तक देने वाले कोरोना केसों में दिसंबर माह के बाद से लगाम लगी थी। मई, जून, जुलाई, अगस्त, सितंबर, अक्टूबर और नवंबर माह तक कोरोना केसों में तेजी थी, लेकिन दिसंबर माह के बाद से इसमें कमी होनी शुरू हो गई थी। दिसंबर में कोरोना के 84 पॉजिटिव केस मिले थे। इसके बाद जनवरी में संख्या एकदम से नीचे गिरकर 8 पर आ गई थी। फरवरी में 10 और मार्च माह में अब तक 9 कोरोना केस मिल चुके हैं। मौजूदा समय में जिले में 1599 पॉजिटिव केसों में 1569 पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। 21 लोगों की पूर्व में मौत हुई थी। इधर, कुछ दिनों से प्रदेश में कोरोना का ग्राफ फिर से बढ़ना शुरू हुआ। इसे देखते हुए शासन ने टीकाकरण को और रफ्तार देने की योजना बनाई है। एक अप्रैल से 45 साल के ऊपर के सभी लोगों को कोरोना के टीके लगाए जाएंगे। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ.रामअवतार ने बताया कि जिले में तीन लाख की आबादी ऐसी है, जो 45 साल के पार है। इन सभी को कोरोना टीके लगाए जाने की तैयारी शुरू कर दी है। जल्द ही माइक्रोप्लान बनकर तैयार हो जाएगा। उन्होंने सभी कि जिले के सभी सेंटरों में टीकाकरण कराया जाएगा। इसके लिए पर्याप्त मात्रा में कोरोना वैक्सीन का भंडारण है। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने वालों को टीकाकरण में वरीयता दी जाएगी। जो लोग मौके पर आईडी लेकर पहुंचेंगे उनका सेंटर में ही रजिस्ट्रेशन होगा और फिर उन्हें टीका लगाया जाएगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.आरके सचान ने बुधवार को कहा कि लोग कोरोना को लेकर लापरवाही न बरतें। सरकारी अस्पतालों में निरूशुल्क टीका लगाया जा रहा है। इसलिए जिनका भी टीका लगवाने का नंबर आता है, वह बगैर किसी डर या आशंका के टीका लगवाएं। वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। हिन्दुस्थान समाचार/ पंकज/