कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव की तैयारियां तेज, जिलाधिकारी ने टीम-9 के साथ की बैठक

कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव की तैयारियां तेज, जिलाधिकारी ने टीम-9 के साथ की बैठक
preparations-for-rescue-of-corona-from-possible-third-wave-intensified-district-magistrate-meets-team-9

वाराणसी, 22 मई (हि.स.) कोरोना के संभावित तीसरी लहर को देखते जिला प्रशासन ने इस पर नियंत्रण के लिए तैयारियों की रफ्तार बढ़ा दी है। शनिवार को जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने महामारी काल में दवा वितरण, सेनिटाइजेशन,ऑक्सीजन व्यवस्था को इसके लिए गठित टीम-9 के साथ अपने कैम्प कार्यालय में बैठक की। बैठक में जिलाधिकारी ने ग्रामीण क्षेत्रों के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर सफाई व्यवस्था के दिये गये निर्देशों के बावजूद कोई प्रगति नही मिलने पर नाराजगी जताई। जिलाधिकारी ने स्वयं चिरईगांव के नरपतपुर स्वास्थ्य केन्द्र का दौरा कर मौके पर स्थिति का जायजा लिया था। और उसी समय निर्देश भी दिए थे तथा टीम भी गठित की गयी थी। समीक्षा के दौरान ही सीएमओ को जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि अभियान चलाकर तत्काल सफाई व्यवस्था एवं बायों मेडिकल वेस्ट का निस्तारण सुनिश्चित करायें। गेहूं क्रय केन्द्रों की जानकारी ली बैठक में जिलाधिकारी ने कोरोना काल के दौरान गेहूं क्रय केंद्रों पर खरीद के सम्बन्ध में जानकारी ली। उन्होंने विगत चार वर्षों 2017 से 2020 तक का वर्षवार विवरण प्रस्तुत करनें एवं 2021 में अब तक कितनी गेहूं की खरीद की गयी इसकी भी सूचना मांगी। जिलाधिकारी ने गेहूं क्रय केंद्रों पर थर्मल स्कैनर तथा पल्स ऑक्सीमीटर किसानों की सुविधा व जांच के लिए उपलब्ध करानें का निर्देश पूर्व में दिया था। बैठक में एडीएम आपूर्ति द्वारा 31 खरीद केन्द्रों के सापेक्ष केवल 12 केन्द्रों पर ही व्यवस्था किये जाने की जानकारी पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई। जिला खाद्य एवं विपणन अधिकारी अरूण कुमार त्रिपाठी के बैठक में अनुपस्थित होने पर उनका एक दिन का वेतन रोकने का निर्देश दिया। गौशालाओं की रिर्पोट मांगी जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी से आज ही सभी गौशालाओं की रिर्पोट तैयार करा कर तत्काल प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। जिसमें गौशाला की बाउन्ड्री वाल, शेड, भूसा आदि की उपलब्धता और वहाॅ के अटेन्डेंट का मोबाइल नम्बर भी शामिल है। जिलाधिकारी ने बैठक में ही एक गौशाला के अटेन्डेन्ट को फोन करके जानकारी भी प्राप्त की़। बैठक में महाप्रबन्धक उद्योग ने सभी 279 औद्योगिक इकाईयों में हेल्प डेस्क स्थापित होने की जानकारी दी। कुछ औद्योगिक इकाईयों के बन्द होने की जानकारी दिये जाने पर जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि शासन की ओर से आर्थिक गतिविधियों को संचालित किये जाने का निर्देश दिया गया है। अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए लिक्विड आक्सीजन प्लांट की जानकारी जिलाधिकारी ने अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए लिक्विड आक्सीजन प्लांट लगाये जाने की जानकारी ली। बन्द ऑक्सीजन प्लांट चालू कराये गये, रिफिल हेतु खाली सिलेन्डरों की व्यवस्था की गयी तथा होम आईसोलेशन के लोगों को भी सिलिन्डर उप्लब्ध कराये गये इसकी भी पूरी जानकारी लेने के बाद इन व्यवस्थाओं का सम्पूर्ण विवरण तैयार करने को कहा। विवरण में एलएमओ की संख्या, ऑक्सीजन रिफिल प्लांट की संख्या तथा उनकी क्षमता, विभिन्न अस्पतालों व आईसोलेशन के मरीजों को दिये गये सिलिन्डर सहित जहां-जहां भी सिलिन्डर है शामिल करना है। उन्होंने सभी खाली सिलिन्डर में रिफिलिंग के लिए वेन्डर्स तैयार करने का भी निर्देश दिया। ताकि ऑक्सीजन की सम्पूर्ण व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिये प्लान तैयार किया जा सके। बैठक में प्रवासी कामगारों के आने पर उनका एन्टीजन टेस्ट,एम्बुलेंस सेवा का सम्पूर्ण डाटा, उसके ड्राइवर का नाम पता व मोबाईल नम्बर की सूची की जानकारी लेने के बाद कोविड कन्ट्रोल रूम में प्राप्त हो रही शिकायतों का विवरण भी जिलाधिकारी ने श्रेणीवार तैयार कराये जाने का निर्देश दिया। बैठक में नगर आयुक्त, ज्वाईंट मजिस्ट्रेट, सीएमओ सहित विभागीय अफसर मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर