लोगों की आत्मा पाप मुक्त होगी तभी समाज अपराध मुक्त बनेगा : स्वामी दिव्यानंद महाराज

लोगों की आत्मा पाप मुक्त होगी तभी समाज अपराध मुक्त बनेगा : स्वामी दिव्यानंद महाराज
people39s-soul-will-be-free-from-sin-only-then-society-will-become-crime-free-swami-divyanand-maharaj

- लोगों को जनसेवा में गौ सेवा को भी जोड़ना होगा स्वामी : डॉ अविशेषानंद महाराज - गंगा दशहरा पर वृंदावन में वृहद संत भंडारा में बोले स्वामी दिव्यानंद महाराज व डा. अविशेषानंद महाराज मथुरा, 20 जून (हि.स.)। रविवार महामंडलेश्वर स्वामी दिव्यानंद महाराज ने कहा कि लोग अंदर से पाप मुक्त होंगे तभी समाज अपराध मुक्त होगा। आज गंगा दशहरा पर्व है लोग संकल्प लें कि हम अपने पाप मुक्त कार्य करेंगे। पाप मुक्त धारणा अंदर रखेंगे तथा ऐसा कोई कार्य नहीं करेंगे जिससे हमारी आत्मा और शरीर पाप युक्त श्रेणी में माना जाए तभी अपराध मुक्त समाज बनेगा। महामंडलेश्वर स्वामी दिव्यानंद महाराज ने कहा कि गंगा दशहरा पर्व हम ब्रह्मलोक से मां गंगा के पृथ्वी पर आने रूप में मनाते हैं। रविवार महामंडलेश्वर डॉक्टर अविशेषानंद जी महाराज ने कहा कि सभी लोगों को जन सेवा में गो सेवा को भी जोड़ना चाहिए तथा अपनी सनातन धर्म संस्कृति को आगे बढ़ाने के लिए पापों से मुक्त जीवन और समाज बनाने में सहयोग करना चाहिए। वृंदावन के गांधी मार्ग स्थित गीता आश्रम पर रविवार गंगा दशहरा पर्व के अवसर पर संत भंडारा आयोजित किया गया, जिसमें ब्रज क्षेत्र के अनेक धर्माचार्य और हजारों साधु संतों ने प्रसाद ग्रहण किया। हिन्दुस्थान समाचार/महेश

अन्य खबरें

No stories found.