लखनऊ-बरौनी और ऐशबाग-गोरखपुर स्पेशल ट्रेन का संचालन 13 जून से

लखनऊ-बरौनी और ऐशबाग-गोरखपुर स्पेशल ट्रेन का संचालन 13 जून से
operation-of-lucknow-barauni-and-aishbagh-gorakhpur-special-train-from-june-13

लखनऊ, 11 जून (हि.स.)। रेलवे प्रशासन यात्रियों की सुविधा के लिए 05204 लखनऊ-बरौनी एक्सप्रेस और 05070 ऐशबाग-गोरखपुर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन का संचालन 13 जून से करेगा। इससे यात्रियों को आवागमन करने में सहूलियत मिलेगी मिलेगी। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (सीपीआरओ) पंकज कुमार ने गुरुवार को बताया कि रेलवे प्रशासन यात्रियों की सुविधा के लिए 05204 लखनऊ-बरौनी स्पेशल ट्रेन और 05070 ऐशबाग-गोरखपुर स्पेशल ट्रेन का संचालन 13 जून से करने जा रहा है। इसी तरह से 05069 गोरखपुर-ऐशबाग स्पेशल ट्रेन 14 जून से, 05206 जबलपुर-लखनऊ जंक्शन एक्सप्रेस 12 जून से और 05270 अहमदाबाद-मुजफ्फ रपुर साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन 12 से 26 जून तक हर शनिवार को चलाई जाएंगी। इससे यात्रियों को राहत मिलेगी। उन्होंने बताया कि ये स्पेशल ट्रेनें पूर्व की समय सारिणी और प्लेटफार्म से चलेंगी। इन ट्रेनों के सभी कोच आरक्षित श्रेणी के होंगे। इनमें कंफर्म टिकट पर ही यात्री सफर कर सकेंगे। यात्रियों के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना अनिवार्य है। रोडवेज के चालकों-परिचालकों के लिए 26 दिनों की ड्यूटी जरूरी उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (रोडवेज) प्रशासन ने नियमित चालकों और परिचालकों के लिए 26 दिनों की ड्यूटी और चार हजार किलोमीटर बस चलाना जरूरी कर दिया है। अब नियमित चालकों और परिचालकों को बसों को संचालित किए बिना वेतन नहीं मिल सकेगा। अभी तक सिर्फ ड्यूटी के हिसाब से वेतन दिया जा रहा था। परिवहन निगम की अपर प्रबंध निदेशक सरनीत कौर ब्रोका ने प्रदेश के सभी क्षेत्रीय प्रबंधकों को पत्र भेजकर कहा है कि चालकों की भर्ती बस चलाने और परिचालकों की भर्ती यात्रियों को टिकट देने के लिए हुई है। इसलिए अब चालकों और परिचालकों से पद के मुताबिक काम लिए जाए। इसके अलावा चालक और परिचालक बिना मुख्यालय के आदेश के अब किसी अधिकारी के यहां संबंद्ध भी नहीं हो सकेंगे। दरअसल, रोडवेज के नियमित चालक और परिचालक बिना किसी वाजिब कारण के जुगाड़ से बसों का संचालन न करके कार्यालय में ड्यूटी करते थे। इस पर अब परिवहन निगम प्रशासन सख्त हो गया है। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक