Now it will be easy to eliminate TV, launch new drug of tuberculosis - Dr. JJ Ram
Now it will be easy to eliminate TV, launch new drug of tuberculosis - Dr. JJ Ram
उत्तर-प्रदेश

अब टीवी को खत्म करने में होगी आसानी क्षय रोग कि नई दवा लांच - डॉ. जेजे राम

news

- 6 से 17 वर्ष के बच्चों की बिगड़ी टी.बी. में रामबाण कन्नौज,09 जनवरी(हि.स.)। क्षय रोग से पीड़ित बच्चों को अब स्वास्थ्य विभाग नई दवा देगा। यह दवा 6 से 17 वर्ष तक के क्षय रोग पीड़ित बच्चों को दी जायेगी। इस संबंध में जिला क्षय रोग अधिकारी डा.जे.जे.राम का कहना है कि क्षय रोग में अलग-अलग स्टेज होती हैं। इनमें से एक मल्टी ड्रग रेजिस्टेंट(एमडीआर) तथा दूसरी एक्सेंसिवली ड्रग रेजिस्टेंट (एक्सीडीआर) है। ऐसे मरीजों को हाई डोज की दवा की जरूरत होती है। इसके लिए बीडाकुलीन दवा लांच की गई थी। यह दवा काफी असरदार है अभी जिले में 20 मरीजों को यह दवा दी जा रही है पर बच्चों के लिए यह दवा सटीक नहीं है इसके लिए सरकार एवं स्वास्थ्य मंत्रालय ने एमडीआर व एक्सीडीआर पीड़ित बच्चों के लिए नई दवा डेलामानिड लान्च की हैं।इस दवा का कोर्स 6 महीने का ही होगा। जिला कार्यक्रम समन्वयक रंजीत सिंह ने बताया कि इस दवा की खुराक 3200 रुपए है जबकि स्वास्थ्य विभाग द्वारा मरीजों को यह दवा को मुफ्त दी जाएगी। यह दवा बाजार में उपलब्ध नहीं होगी केवल टी.बी. विभाग द्वारा ही इसे मरीज को दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि सरोजनी नायडू मेडिकल कॉलेज के टीबी एवं चेस्ट विभाग आगरा ने टीबी की नई दवा का लॉन्च किया है। इस दवा को बच्चों में एमडीआर टीबी मरीजों को दिया जा सकेगा। इससे उन्हें रिकवर होने में काफी सहूलियत होगी। टीवी यानी ट्यूबरक्लोसिस को कई नामों से जाना जाता है जैसे क्षय रोग, तपेदिक, रायक्षमा, दण्डाणु इत्यादि नामों से भी जाना जाता है।टी.बी. एक संक्रामक बीमारी है और इससे ग्रस्त व्यक्तियों में शारिरिक कमजोरी आ जाती है साथ ही उसे कई गंभीर बीमारियों का खतरा भी बना रहता है। उन्होंने बताया कि टी.बी. सिर्फ फेफड़ों का रोग नहीं है बल्कि शरीर के अन्य हिस्सों को भी प्रभावित करता है। भूख न लगना, वजन अचानक कम हो जाना, बेचैनी एवं सुस्ती रहना, सीने में दर्द का एहसास होना, थकावट आना, रात में पसीना आना, हल्का बुखार रहना, खांसी आते रहना, खांसी में बलगम आना तथा बलगम में खून आना इस बीमारी के प्रमुख लक्षण हैं। दो हफ्ते से अधिक समय तक खांसी रहती है तो डाक्टर को दिखांए और बलगम की जांच कराएं। रोगी से मिलने जा रहे तो मास्क पहनें। समय पर खाना खाएं,आपके आस पास कोई बहुत देर तक खांस रहा है तो उससे दूर रहें। किसी बीमार व्यक्ति से मिलने के बाद अपने हाथों को जरूर धो लें। पौष्टिक आहार लें जिससें पर्याप्त मात्रा में विटामिन, मिनिरल, कैल्शियम, प्रोटीन और आयरन हो क्योंकि पौष्टिक आहार हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है। हिन्दुस्थान समाचार/संजीव-hindusthansamachar.in