बलिया में 18 मार्च के बाद पहली बार नहीं मिले कोरोना के एक भी केस

बलिया में 18 मार्च के बाद पहली बार नहीं मिले कोरोना के एक भी केस
not-a-single-case-of-corona-found-in-ballia-for-the-first-time-after-march-18

बलिया, 11 जून (हि. स.)। कोरोना की दूसरी लहर में ढाई माह बाद बलिया में एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिला है। पिछले कई दिनों से एकाध मामले ही सामने आ रहे थे। यह कोरोना संकट के खात्मे का संकेत माना जा रहा है। कोरोना की दूसरी लहर में पूरे देश के साथ-साथ जिले में भी कोहराम मच गया था। हालात ये बन गए थे कि। कई-कई दिनों तक पांच सौ से अधिक कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे थे। यहां भी ऑक्सीजन व अस्पतालों में बेड के लिए हाहाकार मचा हुआ था। हालांकि, कोरोना का प्रकोप धीरे-धीरे खत्म होने लगा है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. राजेन्द्र प्रसाद ने बताया कि 18 मार्च के बाद 10 जून को पहली बार एक भी केस सामने नहीं आया। उन्होंने कहा कि 10 जून को 2915 एन्टीजन टेस्ट कराया गया था। जिसमें एक भी संक्रमित मरीज नहीं मिला। जबकि 3188 नमूनों को अरटीपीसीआर जांच के लिए बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर भेजा गया था। जिसमें से 22 की रिपोर्ट आई है। इसमें भी कोई पॉजिटिव केस नहीं मिला है। सीएमओ ने कहा कि सघन कांट्रेक्ट ट्रेसिंग व निगरानी से कोरोना पर काबू पाया जा सका है। उन्होंने लोगों से मास्क और सामाजिक दूरी का पालन करते रहने की अपील की। हिन्दुस्थान समाचार/पंकज