बिजली बिल में न हो वृद्धि, जून में एक करोड़ लोगों को लगेगी वैक्सीन - योगी

बिजली बिल में न हो वृद्धि, जून में एक करोड़ लोगों को लगेगी वैक्सीन - योगी
no-increase-in-electricity-bill-one-crore-people-will-be-vaccinated-in-june---yogi

लखनऊ, 28 मई (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए एक जून से शुरू होने वाले वैक्सीनेशन के तहत एक करोड़ प्रदेशवासियों को लाभान्वित किया जाएगा। अभियान की पूरी तैयारी के लिए सम्बंधित जनपदों को दिशा-निर्देश दिए गए हैं। वह शुक्रवार को वर्चुअल माध्यम से एक उच्च स्तरीय बैठक में कोविड-19 प्रबंधन की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि व्यापक जनहित को ध्यान में रखते हुए बिजली उपभोग की दर में कोई वृद्धि न करते हुए इसे यथावत रखना सर्वथा उचित होगा। इस मौके पर टीम-09 ने मुख्यमंत्री को बताया कि बीते 24 घण्टों में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 02 हजार 402 मामले आए हैं। वहीं, 08 हजार 145 संक्रमित व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया गया है। एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 52 हजार 244 हो गयी है। राज्य में रिकवरी दर बढ़कर 95.7 प्रतिशत हो गयी है। 24 घण्टों में 3 लाख 58 हजार 407 कोविड टेस्ट किये गये। वहीं, अब तक 4 करोड़, 84 लाख, 26 हजार 572 कोविड टेस्ट किए गये हैं। मुख्यमंत्री ने कोविड-19 से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं पर बोलते हुए कहा कि राज्य सरकार की ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ की नीति कोविड नियंत्रण में उपयोगी सिद्ध हो रही है। वहीं, बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने विश्व तंबाकू निषेध दिवस-2021 पुरस्कार उत्तर प्रदेश के स्टेट टोबैको कन्ट्रोल सेल को तंबाकू नियंत्रण के प्रयासों के लिए दिया है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों को संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए चलाये जा रहे वृहद जांच अभियान को प्रभावी ढंग से जारी रखा जाए। स्वास्थ्य विभाग एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा प्रदेश के सभी जनपदों में पोस्ट कोविड वॉर्ड की स्थापना की जाए। पीकू और नीकू के स्थापना कार्य में प्रदेश के इंसेफेलाइटिस नियंत्रण सम्बन्धी अनुभवों का उपयोग किया जाए। उन्होंने कहा कि स्वच्छता, सैनिटाइजेशन और फॉगिंग कोरोना सहित संक्रामक बीमारियों की रोकथाम में उपयोगी है। योगी ने कहा कि पुलिस निरन्तर पेट्रोलिंग करते हुए आंशिक कोरोना कर्फ्यू को और प्रभावी बनाए। वहीं, सभी गेहूं क्रय केन्द्र प्रभावी ढंग से कार्यशील रहे। गेहूं बेचने में किसी किसान को कोई समस्या नहीं आनी चाहिए। एमएसपी के तहत गेहूं खरीद तथा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत खाद्यान्न का वितरण कोविड प्रोटोकॉल के पूर्ण पालन के साथ सुचारु ढंग से किया जाए। हिन्दुस्थान समाचार/राजेश/विद्या कान्त

अन्य खबरें

No stories found.