संकट के समय  किया गया कार्य विशेष सराहनीय होता है : निलिमा कटियार
संकट के समय किया गया कार्य विशेष सराहनीय होता है : निलिमा कटियार
उत्तर-प्रदेश

संकट के समय किया गया कार्य विशेष सराहनीय होता है : निलिमा कटियार

news

-उच्च शिक्षा राज्यमंत्री ने राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यों की सराहना की लखनऊ, 17 जुलाई (हि.स.)। राष्ट्रीय सेवा योजना उत्तर प्रदेश के कोविड संकट के समय मे पिछले 100 दिनों में किये गये कार्यों की समीक्षा वेबिनार में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री नीलिमा कटियार ने एनएसएस परिवार के द्वारा किये गए सेवा कार्यों की प्रशंसा की। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि संकट के समय में किया गया कार्य विशेष रूप से सराहनीय और सार्थक होता है। राष्ट्रीय सेवा योजना उत्तर प्रदेश के राज्य सम्पर्क अधिकारी डॉक्टर अंशुमालि शर्मा और क्षेत्रीय निदेशक डॉ0 अशोक श्रोती के निर्देशन में रिव्यु वेबिनार आयोजित की गई। वेबिनार का विषय क्षेत्रीय निदेशक डाक्टर अशोक श्रोती ने बताया कि 150 से भी अधिक गांवों का शत प्रतिशत आच्छादन, 75 से भी अधिक मास्क बैंक, हज़ारों छात्रों द्वारा आई गोट प्लेटफॉर्म पर प्रशिक्षण प्राप्त कर कोविड वालंटियर के रूप में सहयोग आदि उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय सेवा योजना के विशेष कार्यों में शामिल हैं। कोविड संकट के दौरान पूरे प्रदेश के विश्विद्यालयों के कार्यक्रम समन्वयकों के साथ सभी जनपदों के जिला नोडल अधिकारियों ने अपने अपने जनपद के कार्यक्रम अधिकारियों को साथ लेकर स्वयं सेवकों को ऑनलाइन ट्रेनिंग, मास्क बनाने से लेकर गांवों को शत प्रतिशत मास्क आच्छादन , मास्क बैंक की स्थापना, गर्भवती महिलाओं और धात्री माताओं के लिये सहायता और जागरूकता, नशामुक्ति तथा मुस्करायेगा इंडिया इनिशिएटिव के तहत 300 से अधिक मेंटल हेल्थ मेंटर का सहयोग आदि कार्यों की चर्चा करते हुए कार्यक्रम समन्वयकों , जिला नोडल अधिकारियों ने उच्च शिक्षा राज्य मंत्री से सीधा संवाद किया। इस अवसर पर डॉ राकेश द्विवेदी कार्यक्रम समन्वयक राष्ट्रीय सेवा योजना लखनऊ विश्वविद्यालय ने ने लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा कोविड-19 के विरुद्ध चलाए जा रहे विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों एवं गतिविधियों के विषय में विस्तार से प्रकाश डाला। हिन्दुस्थान समाचार/उपेन्द्र/दीपक-hindusthansamachar.in