कोरोना महामारी में शरीर की प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाने में कारगर है मशरूम

कोरोना महामारी में शरीर की प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाने में कारगर है मशरूम
mushroom-is-effective-in-increasing-body-resistance-in-corona-epidemic

बांदा, 13 मई (हि.स.)। कोरोना महामारी के समय जबरदस्त पोषक और औषधीय गुण वाले खाद्य पदार्थ चाहे वह सब्जी, अनाज, फल अथवा अन्य स्रोतो को भोज्य पदार्थ में समाहित किया जाये। प्रोटीन एवं अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से परिपूर्ण मशरूम को आहार में शामिल करना बहुत ही उपयोगी होगा। मशरूम में विभिन्न प्रकार के पौष्टिक तत्व पाये जाते हैं जो मानव शरीर के निर्माण, पुनः निर्माण एवं वृद्धि के लिये आवश्यक होते हैं। यह बात कृषि विश्वविद्यालय, बांदा के कुलपति डा. यू.एस. गौतम ने कही। डॉ. दुर्गा प्रसाद, प्रभारी, मशरूम यूनिट, बांदा कृषि विश्वविद्यालय का कहना है कि मशरूम में लगभग 22-35 प्रतिशत उच्च कोटि की प्रोटीन पायी जाती हैै। जो पौधों से प्राप्त प्रोटीन से कही अधिक होती है तथा यह शाकभाजी व जन्तु प्रोटीन के मध्यस्थ का गुणवत्ता रखती है। मशरूम की प्रोटीन में शरीर के लिये आवश्यक सभी अमीनो अम्ल, मेथियोनिन, ल्यूसिन, आइसोल्यूसिन, लाइसिन, थ्रीमिन, ट्रिप्टोफेन, वैलीन, हिस्टीडिन और आर्जीनिन आदि की प्राप्ति हो जाती है जो दालों (शाकाहार) आदि में प्रचुर मात्रा में नहीं पाये जाते हैं। औषधीय गुणों से परिपूर्ण मशरूम में पौष्टिक गुणों के अलावा अनेक औषधीय गुण पाये जाते हैं। इसमें फफूँद, जीवाणु एवं विषाणु अवरोधी गुण पाये जाते हैं, इसका लगातार प्रयोग टयूमर, मलेरिया, मिर्गी, कैंसर, मधुमेह, रक्तस्राव आदि रोगों से लड़नें की क्षमता भी प्रदान करता है। प्रतिरोधक क्षमता (इम्युनिटी) बढ़ाने में अतिप्रभावी मशरूम में पाया जाने वाला गेनोडेरिक अम्ल, एर्गोस्टेरॉल एवं पाॅलीसैकेराइड-के (क्रेसिन) शरीर की प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाता है। डा. सिंह ने यह भी बताया है कि मशरूम में लौह तत्व उपलब्ध अवस्था में होने के कारण रक्त में हीमोग्लोबिन के स्तर को बनाये रखता है साथ ही इसमें बहुमूल्य फोलिक एसिड की उपलब्धता होती हैै। लौह तत्व एवं फोलिक एसिड के कारण यह रक्त की कमी की शिकार अधिकांश ग्रामीण महिलाओं एवं बच्चों के लिये सर्वोत्तम आहार है। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल

अन्य खबरें

No stories found.