मीरजापुर : अब जिले में प्रतिदिन कोरोना टेस्ट चार हजार करने पर विचार

 मीरजापुर : अब जिले में प्रतिदिन कोरोना टेस्ट चार हजार करने पर विचार
mirjapur-now-considering-doing-four-thousand-corona-tests-per-day-in-the-district

-कोरोना से मृत लोगों को राहत के लिए गाइडलाइन का शीघ्र कराएं पालन - कमिश्नर मीरजापुर, 22 मई (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की वीडियो-कांफ्रेंसिंग में दिए निर्देश के बाद कमिश्नर योगेश्वर राम मिश्र एवं डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से जिले में कोरोना के संदिग्धों की जांच चार हजार प्रतिदिन करने के सम्बंध में रणनीति तय की। अभी तक जिले में प्रतिदिन अधिकतम 2500 टेस्ट किया जा रहा था। टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि के लिए सीएमओ डॉ.पीडी गुप्ता को अतिरिक्त लैब टेक्निशियन और अन्य संसाधनों की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। कहा गया है कि जितनी जल्द सम्भव हो यह व्यवस्था की जाए, ताकि जिले को जल्द से जल्द कोविड मुक्त कराने में मदद मिले। यहीं नहीं ग्रामीण इलाके में वैक्सीनेशन के लिए डोर-टू-डोर अभियान चलाने के सम्बंध में भी कमिश्नर और डीएम विचार-विमर्श किए। मण्डल और जिले के दोनों आला अधिकारियों का मानना है कि टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि कर कोरोना सम्भावित मरीजों को ट्रेस कर यदि इलाज करा दिया जाए तो संक्रमण की दर आसानी से गिर जाएगी। साथ ही समय से इलाज मिल जाने पर व्यक्ति को जान भी नहीं गंवानी पड़ेगी। इसी को ध्यान में रखकर प्रतिदिन कम से कम चार हजार व्यक्तियों का कोरोना टेस्ट करने की रणनीति तैयार की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग को मानव संसाधन एवं उपकरणों की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/गिरजा शंकर/विद्या कान्त