meerut-farmer-plowed-wheat-crop-in-protest-against-agriculture-law
meerut-farmer-plowed-wheat-crop-in-protest-against-agriculture-law
उत्तर-प्रदेश

मेरठ : कृषि कानून के विरोध में किसान ने जोत दी गेहूं की फसल

news

मेरठ, 23 फरवरी (हि.स.)। कृषि कानून के विरोध में मंगलवार को मेरठ के रोहटा गांव में एक किसान ने अपनी गेहूं की 12 बीघा फसल ट्रैक्टर से जोत डाली। इसके साथ ही रोहटा में किसानों ने भाजपा के जनप्रतिनिधियों के प्रवेश पर रोक लगाने का ऐलान किया। रोहटा गांव के रहने वाले राजीव पुत्र बृजपाल ने अपनी 12 बीघा गेहूं की फसल पर ट्रैक्टर चलाकर उसे जोत डाला। इस दौरान मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने भाजपा विरोधी नारे लगाते हुए जमकर हंगामा किया। किसानों ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार हिटलर की तरह तानाशाही चला रही है। वह किसी भी कीमत पर अपना अनाज अडानी और अंबानी के गोदामों में नहीं जाने देंगे। इसके लिए चाहे उन्हें अपनी फसल बर्बाद ही करनी पड़े। किसानों ने सवाल उठाया कि जब हर पांच साल में सरकारी कर्मचारी के वेतन में बढ़ोतरी होती है तो आखिर किसानों की फसल के दाम क्यों नहीं बढ़ाए जाते? इस मौके पर किसान राजीव, सुरजीत, संदीप आदि किसानों ने सरकार की नीतियों पर रोष जताया। उन्होंने अपने गांव में किसी भी भाजपा जनप्रतिनिधि को दाखिल ना होने देने का ऐलान किया है। हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप

AD
AD