मथुरा : पांच बजे तक त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का मतदान रहा 63.61 प्रतिशत

मथुरा : पांच बजे तक त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का मतदान रहा 63.61 प्रतिशत
mathura-the-polling-for-the-three-tier-panchayat-election-till-5-pm-was-6361-percent

- बरसाना कोसी छोड़ ज्यादातर रहा शांतिपूर्ण मतदान मथुरा, 29 अप्रैल (हि.स.)। जनपद में गुरुवार सुबह त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर मतदान शुरू हुआ। जिसमें लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग करते हुए 33 जिला पंचायत सदस्य और 503 ग्राम प्रधान के साथ ही 745 क्षेत्र पंचायत सदस्य और 6564 ग्राम पंचायत सदस्य पदों के लिए वोट डाले। पांच बजे तक 63.61 फीसद मतदान हो चुका है। बरसाना और कोसीकलां को छोड़कर ज्यादातर जगहों पर शांतिपूर्ण अंदाज से मतदान चला। गुरुवार सुबह सात बजे से ही केंद्रों पर मतदाताओं की कतार लगने लगी थी। यहां मतदान करने आये ग्रामीणों के मुंह पर मास्क तो लगाये रखा, लेकिन मतदान की होड़ में दो गज की दूरी के नियम का पालन करना भूल गये। मतदाताओं ने उत्साह दिखाते हुए 856 मतदान केंद्र और 2154 मतदेय स्थलों पर वोट डाले। जिले में मतदाताओं की संख्या 13 लाख आठ हजार 223 मतदाता हैं। पांच बजे तक त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का मतदान 63.61 प्रतिशत रहा। उम्मीदवार की मौत पर वोटिंग निरस्त सुबह 11 बजे तक 23.97 फीसदी वोट पड़े थे। बाद में दोपहर तीन बजे 52.22 प्रतिशत जा पहुंचा था। इसी बीच गजोली गांव के प्रधान उम्मीदवार रणधीर सिंह की कोरोना से मृत्यु हो गई है। इससे प्रधान पद का मतदान रोक दिया गया है। उधर, गांव कोयल में प्रधान उम्मीदवार की बुधवार की रात मौत हो जाने से वोटिंग निरस्त कर दी गई है। दोनों जगहों पर अन्य पदों के लिए मतदान हो रहा है। ग्राम पंचायत कोयल में प्रधान पद के प्रत्याशी की बीमारी से मौत, चुनाव निरस्त करने के प्रक्रिया क्रियांवयन जिला निर्वाचन अधिकारी नवनीत सिंह चहल ने बताया कि सुबह से सेक्टर और जोनल मजिस्ट्रेट बराबर बूथों पर निगरानी की है। राया विकास खण्ड की ग्राम पंचायत कोयल में प्रधान पद की उम्मीदवार ललिता की बीती रात बीमारी से मौत हो गयी। वोटिंग निरस्त कर दी गई है। मतदाताओं की पसंद और न पसंद का फैसला दो मई को होगा। हालांकि एक प्रधान और 66 क्षेत्र पंचायत सदस्य निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। 3384 ग्राम पंचायत सदस्यों को भी निर्विरोध चुना गया है। हिन्दुस्थान समाचार/महेश