Maneka Gandhi's dream project Sakhi Center completed at a cost of 48 lakhs, now victimized women will get shelter
Maneka Gandhi's dream project Sakhi Center completed at a cost of 48 lakhs, now victimized women will get shelter
उत्तर-प्रदेश

मेनका गांधी का ड्रीम प्रोजेक्ट सखी सेंटर 48 लाख की लागत से हुआ तैयार, अब पीड़ित महिलाओं को मिलेगा आश्रय

news

सुलतानपुर, 18 जनवरी (हि. स.)। सांसद मेनका गांधी का ड्रीम प्रोजेक्ट वन स्टाप सेन्टर-सखी 48 लाख रूपए की लागत से बनकर तैयार हो गया है । किसी भी कारण पीड़ित महिलाओं के लिए सहारा बनेगा । पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद मेनका गांधी द्वारा 9 अक्तूबर 2019 को शिलान्यास कर जिलेवासियों को वन स्टाप सेन्टर की सौगात दी गयी थी। 15 महीने में 48 लाख रूपए की लागत से तैयार हो रहा वन स्टाप सेन्टर-सखी का मेनका संगांधी द्वारा अगले दौरे के दौरान उद्घाटन किया जायेगा। सांसद का ड्रीम प्रोजेक्ट वन स्टाप सेन्टर- सखी किसी भी कारण से पीड़ित महिलाओं के लिए सौगात के रूप में होगा। सोमवार को सांसद प्रतिनिधि रणजीत कुमार, जिला प्रोवेशन अधिकारी राजेश कुमार, सांसद मीडिया प्रभारी विजय सिंह रघुवंशी , ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के अवर अभियंता राजकिशोर , समाज सेवी राजेश पांडेय एवं लेखपाल चन्द्रदेव सिंह ने मौके का निरीक्षण किया। सांसद प्रतिनिधि रणजीत कुमार ने जिला प्रोवेशन अधिकारी व कार्यदायी संस्था के अवर अभियंता को सांसद मेनका गांधी द्वारा उद्घाटन करने के पूर्व तैयारी के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिया। -महिलाओं को संकट काल मे एक बड़ा सहारा मिलेगा सांसद मीडिया प्रभारी विजय सिंह रघुवंशी ने बताया कि वन स्टाप सेन्टर, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित होता है। इसका उद्देश्य घर के भीतर एवं घर के बाहर किसी भी रूप में पीड़ित व संकटग्रस्त महिला को आपातकालीन सुविधा तत्काल उपलब्ध करवाना है। वन स्टॉप सेंटर में जरूरतमंद महिलाओं को कानूनी सहायता, मानसिक सहायता के लिए काउंसिलिग, चिकित्सा सहायता, घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं की सहायता, 5 दिन का अस्थाई आश्रय इत्यादि सुविधा एक ही छत के नीचे उपलब्ध करवाई जाती है। वन स्टॉप सेंटर में महिलाओं को घर जैसा माहौल दिया जाता हैं, ताकि वह अपनी समस्याओं को अच्छे से बता सके और उनकी समस्याओं का समाधान हो सके। पीड़ित व संकट ग्रस्त महिलाएं व बालिकाएं प्रत्यक्ष रूप से प्रस्तुत होकर या महिला हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर 181 या जिला कार्यालय महिला एवं बाल विकास विभाग, सखी सेंटर में जानकारी दे सकते है।सूचना देने वाले व्यक्ति की पहचान गोपनीय रखी जाती है। हिन्दुस्थान समाचार/दयाशंकर/दीपक-hindusthansamachar.in