कुशीनगर: वैक्सिनेशन करायेंगे तो ही मिलेगा सरकारी राशन

कुशीनगर: वैक्सिनेशन करायेंगे तो ही मिलेगा सरकारी राशन
kushinagar-government-will-get-ration-only-if-we-do-vaccination

- ग्रामीण उदासीन तो प्रशासन ने बरती सख्ती - 15 दिन में आठ लोगों की मौत कुशीनगर, 22 मई (हि.स.)। कुशीनगर के पतया गांव के ग्रामीणों ने कोविड-19 से बचाव के लिए चल रहे वैक्सिनेशन कार्यक्रम में उदासीनता बरती तो एसडीएम ने 'नो वैक्सिनेशन नो राशन' का स्लोगन दिया। अब राशन के दुकानदार वैक्सिनेशन कार्ड देखकर ही राशन वितरण कर रहे हैं। एसडीएम की इस व्यवस्था से लोग वैक्सिनेशन की लाइन में लग रहे हैं, फिर राशन वितरण की लाइन में। कसया के ज्वाइंट मजिस्ट्रेट पूर्ण बोरा की इस व्यवस्था से ग्रामीणों को उदासीनता तोड़नी पड़ी। इस गांव में 15 दिन के भीतर आठ लोगों की मौत हो चुकी है। गांव वाले मृतकों में कोरोना लक्षण होने की बात कह रहे है। एसडीएम की इस व्यवस्था के बाद गांव के 30 व्यक्तियों को कोविड शील्ड की वैक्सीन लगाई गई। 52 लोगों की एंटीजेन किट से जांच की गई, जिसमे सभी निगेटिव पाए गए। 58 लोगों की आरटीपीसीआर जांच के लिए सैम्पलिंग हो पाई। दरअसल, शनिवार को स्वास्थ्य विभाग ने गांव के प्राथमिक विद्यालय पर कैम्प लगाया था। ग्रामप्रधान के अपील के बाद भी एक घंटे तक कोई ग्रामीण न तो वैक्सीन लगवाने आया और न ही जांच कराने आया। इसकी सूचना स्वास्थ्य कर्मियों ने अपने उच्चाधिकारियों और ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट को दिया। जानकारी पाकर वह कैम्प पर पहुंचे। गांव में स्वास्थ्य के प्रति लोगों की उदासीनता को देखा। इसके बाद ग्रामप्रधान व कोटेदार को मौके पर बुलाया और कोटेदार को निर्देश दिया कि राशन उसी को दिया जाय जो अपने साथ टीकाकरण का कार्ड लेकर आए। उसके बाद वह स्वयं ही नायब तहसीलदार के साथ पूरे गांव में भ्रमण कर ग्रामीणों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया। ग्रामप्रधान को भी अपने व पंचायत मित्र के माध्यम से ग्रामीणों को जागरूक कर उन्हें टीका लगवाने के लिए प्रेरित करने को कहा। प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. एलबी यादव ने भी ग्रामीणों को टीकाकरण के प्रति जागरूक करते हुये कहा कि स्वास्थ्य विभाग के लोगों को टीका लग चुका है और किसी को कोई दिक्कत नहीं। सभी लोग स्वस्थ्य हैं और अपनी ड्यूटी पूरी मुस्तैदी के साथ कर रहे है। अतः आप सभी बिना किसी डर व भय के टीकाकरण जरूर करवाए। और साथ ही कोविड के नियमों का कड़ाई से पालन करें। मास्क और दो गज की दूरी अपनाएं। नियमित भाप लें और गुनगुने पानी का सेवन करें। चिकित्सा दल में शामिल महिला सदस्य समीना खातून, प्रगति वर्मा, गीता, सुमन, उर्मिला, बसीबुन ने घरों में जाकर महिलाओं को टीकाकरण के लिए जागरूक किया। डॉ. मुन्ना गोंड, डॉ. बैजनाथ चौधरी, एसटीएलएस डॉ. आशुतोष मिश्र, एसटीएस राजीव राय, राकेश कुमार, एल ए नियाज अहमद, उत्तम भारती, शमशेर ,लेखपाल बृजेश मणि त्रिपाठी, शमसेर, ग्राम प्रधान समीउल्लाह की टीम ने गांव के पुरुषों को अलग अलग व समूह में टीकाकरण के फायदे बताएं "गांव को संक्रमण मुक्त कराने के लिए यह व्यवस्था बनाई गई है। व्यापक जनहित में प्रशासन को कठोर कदम भी उठाना पड़ता है।राशन दुकानदारों को टीकाकरण का कार्ड साथ लाने वालों को ही राशन देने का आदेश दिया है।" -पूर्ण बोरा ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कसया हिन्दुस्थान समाचार/गोपाल