कौशाम्बी : छिटपुट घटनाओं के बीच शांतिपूर्ण मतदान संपन्न

कौशाम्बी : छिटपुट घटनाओं के बीच शांतिपूर्ण मतदान संपन्न
kaushambi-peaceful-voting-concluded-amidst-sporadic-incidents

- शाम 5 बजे तक 56.5 फीसदी पड़े वोट कौशाम्बी, 29 अप्रैल (हि.स.)। जनपद में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का अंतिम चरण का मतदान गुरुवार को छिटपुट की घटनाओं के बीच शान्तिपूर्ण संपन्न हो गया। मंझनपुर व सिराथू तहसील के कई पोलिंग बूथों पर विवाद की स्थिति बनी, जिसे प्रशासनिक अफसरों ने समय रहते समझा-बुझाकर शांत करा लिया। बूथों पर हंगामें की स्थिति से निपटने के लिए पुलिस को त्रिलोकपुर, मूरतगंज, बरई-बधवा एवं उदाथू गांव में मतदान केंद्र के बाहर हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा। नहीं हो सका कोविड नियमों का पालन जनपद के ज्यादातर पोलिंग बूथों पर कोविड नियमों की पाबन्दी बेअसर दिखाई पड़ी। लोग बेखौफ होकर एक दूसरे के बेहद नजदीक खड़े होकर अपनी बारी आने का इंतजार लाइन में करते दिखे। खास कर महिलाओं की कतार में शारीरिक दूरी नहीं दिखी। हालांकि पुलिस के जवान बार-बार लोगो से कोरोना नियमों का पालन कराने की कोशिस करते नजर आये। धूप में घंटों लाइन लगा दिया वोट मंझनपुर तहसील के बरई-बधवा पोलिंग बूथ पर वोटर कड़ी धूप में लाइनों में लग कर वोट देने को मजबूर दिखे। मतदाताओं को धूप से बचाने के लिए लगाए गए टेंट पर पुलिस कर्मियों ने कब्जा जमाये रखा। नतीजतन सूरज की तपिश से बचने के लिए मतदाताओं को छाते का सहारा लेना पड़ा। महिला सुनीता ने बताया कि वह दो घण्टे से अपनी बारी आने के इन्तजार में खड़ी रही। फर्जी मतदान के लगे आरोप-प्रत्यारोप कई मतदान केन्द्रों पर स्थानीय लोगों ने जाली मतदान कराये जाने का आरोप-प्रत्यारोप एक दूसरे पक्ष पर लगाया। महिला फूल कुमारी व जवेरिया सिद्दीकी ने बताया, मतदान केंद्र पर सख्ती इतनी है कि मतदाताओं को पहचान पक्ष कई-कई बार जांचे जा रहे हैं। लोग वोट नहीं डाल पा रहे है। स्थानीय युवक सुरेश ने बताया कि वह जब वोट डालने जा रहा था, तभी एक पक्ष ने रुपये का लालच देकर अपने पक्ष में मतदान करने का दबाव बनाया। पुलिस ने करीब पांच दर्जन से अधिक लोगो को फर्जी मतदान के आरोप में हिरासत में लिया गया। जिन्हे मतदान प्रक्रिया खत्म होने के बाद छोड़ दिया गया। शाम 5 बजे तक 56.5 फीसदी पड़े वोट हिन्दुस्थान समाचार / अजय/दीपक