कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर चार काउंटर बनाकर टिकट वापसी व बुकिंग का कार्य शुरु
कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर चार काउंटर बनाकर टिकट वापसी व बुकिंग का कार्य शुरु
उत्तर-प्रदेश

कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर चार काउंटर बनाकर टिकट वापसी व बुकिंग का कार्य शुरु

news

कानपुर, 23 जुलाई, (हि.स.)। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर करीब पांच माह से यात्री ट्रेने बंद चल रही है। अब रिजर्वेशन टिकटों को पैसा यात्रियों को वापस किया जा रहा है। कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर चार टिकट काउंटर बनाकर टिकट वापसी व बुकिंग का कार्य किया जा रहा है। वहीं, पैसों की वापसी के लिए आए हुए सभी यात्रियों की थर्मल सकैनिंग व सेनिटाइज़ेशन के बाद ही प्रवेश दिया जा रहा है। कानपुर सेंट्रल के आरक्षण कार्यालय के सीआरएस पद पर तैनात बनवारी लाल चौरसिया ने बताया कि पिछले सप्ताह हमारे विभाग की एक महिला सहयोगी के कोरोना पॉजिटिव निकलने पर ये कार्यालय दो दिन के लिए बंद हो गया था। जिसे बंदी के दौरान पूरे भवन को सेनिटाइज़ेशन का कार्य करवाया गया है। जिससे यहां पर आने वाले यात्रीगण किसी भी प्रकार से कोविड-19 के शिकार न हो। इसका हम लोग विशेष धयान रखते हुए कार्य कर रहे है। टिकट बुकिंग व निरस्तीकरण के लिए आने जाने वाले यात्रियों की थर्मल सकैनिंग व सेनिटाइज़ेशन के बाद ही परिसर में प्रवेश दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 22 जुलाई को 243 यात्रियों ने टिकट बुक करवाए जिससे रेलवे को 1,05,310 रुपयों का लाभ हुआ है। जिसमे कि 195 यात्रियों ने टिकट रदद् करवाने पर 94,455 रुपये का भुगतान किया गया है। तो वहीं आज सुबह पाली में 191 यात्रियों ने टिकट बुक कराए जिससे रेलवे विभाग को 90,790 रुपये का लाभ हुआ है। तो वहीं 130 यात्रियों ने टिकट रद्द करवाए है जिससे 70,440 रुपये का भुगतान किया गया है। इस लॉक डाउन के बाद जिन 115 जोड़ी स्पेशल गाड़ियों का संचालन शुरू किया गया था वह पूर्वरत चलती रहेगी। हिन्दुस्थान समाचार/हिमांशु-hindusthansamachar.in