समाज व राष्ट्र हित में हो पत्रकारिता - आरएसएस प्रचारक

समाज व राष्ट्र हित में हो पत्रकारिता - आरएसएस प्रचारक
journalism-should-be-in-the-interest-of-society-and-nation---rss-pracharak

सुल्तानपुर, 28 मई (हि.स.)। महर्षि नारद सृष्टि के पहले पत्रकार थे, उनका सभी से बराबर सम्बन्ध था। वे कहीं कलह भी करवाते थे तो उसके पीछे समाज व राष्ट्र का हित छिपा होता था। आधुनिक पत्रकारिता भी समाज व राष्ट्रहित में होनी चाहिए। यह बातें शुक्रवार को बतौर मुख्य अतिथि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सह प्रान्त प्रचारक मुनीश ने कही। वह नारद जयंती के अवसर पर ’महामारी काल में पत्रकारों की सकारात्मक भूमिका’ विषयक वेबिनॉर को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता में भेदभाव नहीं करना चाहिए। सदैव समाज और राष्ट्र के हित को ध्यान में रखते हुए पत्रकारिता करना चाहिए। विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ पत्रकार जगदीश सौरभ ने कहा कि इस महामारी काल के साथ ही सामान्य परिस्थिति में भी पत्रकारों की भूमिका बहुत अहम होती है। महामारी काल में कोई भी समाचार का प्रस्तुतिकरण ऐसा हो जिससे समाज और राष्ट्रहित हो। वरिष्ठ पत्रकार दिनेश दुबे ने कहा कि पत्रकार और पक्षकार में बहुत बारीकी है। इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि पत्रकारिता करते समय पक्षकार की भूमिका में न आएं। यही सही मायने में नारद भगवान के प्रति सच्ची आस्था होगी। संगोष्ठी का संचालन जिला प्रचार प्रमुख शेषमणि ने किया। हिन्दुस्थान समाचार/दयाशंकर/विद्या कान्त