Jhansi-Khauranipur road will be cleared by January by removing the obstacles of construction of Jhansi-Khajuraho road
Jhansi-Khauranipur road will be cleared by January by removing the obstacles of construction of Jhansi-Khajuraho road
उत्तर-प्रदेश

झांसी-खजुराहो मार्ग निर्माण की बाधाओं को दूर कर जनवरी तक झांसी-मऊरानीपुर मार्ग होगा सुगम

news

झांसी, 29 दिसम्बर (हि.स.)। जिलाधिकारी आन्द्रा वामसी ने विकास भवन सभागार में राष्ट्रीय राजमार्ग झांसी-खजुराहो तथा झांसी-बबीना मार्ग के 01 से 11 किलोमीटर में 04-लेन निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए कार्य में बेहद धीमी पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने निर्देश दिए कि निर्माण कार्यों में जो भी बाधाएं आ रही हैं, उनका त्वरित निस्तारण किया जाए ताकि कार्य जल्द पूर्ण हो सके और जनमानस को लाभ मिल सके। जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम झांसी-खजुराहो मार्ग के निर्माण कार्यो की समीक्षा के दौरान नाराजगी व्यक्त की और अब तक किए गए कार्य पर असंतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि सड़क निर्माण में जो भी बाधाएं आ रही हैं उन्हें जल्द दूर किया जाए। सड़क निर्माण एजेंसी के ठेकेदार को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि हर हाल में माह जनवरी तक झांसी-मऊरानीपुर मार्ग सुगम बनाया जाए तथा संपूर्ण निर्माण कार्य मार्च 2021 तक पूर्ण किया जाए। उन्होंने कहा कि कार्यदायी संस्था पीएनसी समस्याओं को सुलझाने में रुचि नहीं ले रही है, बल्कि लटकाए रखने की मंशा रहती है और यही कारण है कि कार्य संतोषजनक नहीं है। जिलाधिकारी ने एनएचएआई व कार्यदायी संस्था को निर्देश दिए कि दिगारा से बरुआसागर मार्ग जल्द बनाएं। उन्होंने कहा कि जिस क्षेत्र में कोई समस्या नहीं है वहां भी रोड का काम नहीं हो पा रहा है, जिस कारण ट्रैफिक समस्या अधिक हो रही है। झांसी-बबीना सड़क चौड़ीकरण कार्य की समीक्षा के दौरान अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग सुनील कुमार ने बताया कि विद्युत विभाग द्वारा कुल 455 पुराने विद्युत पोलों एवं 30 ट्रांसफॉर्मर को हटाया जाना था, जिसके सापेक्ष अभी तक 407 पोल एवं 12 ट्रांसफॉर्मर अभी तक हटाया नहीं गए, जिस कारण चैड़ीकरण कार्य बाधित है। जल निगम द्वारा भी यही बात कही गई। जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग को निर्देश दिए कि कार्य में तेजी लाएं ताकि चैड़ीकरण कार्य जल्द पूर्ण हो सके। इस मौके पर नगर आयुक्त सीडीओ अवनीश कुमार राय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. गजेंद्र कुमार निगम, डीएफओ वीके मिश्रा, जीएम पीडी एनएचएआई पीएल चैधरी, डिप्टी मैनेजर अतुल पुंडीर, जीएम, पीएनसी प्रभाकर शर्मा, एसडीएम सदर व मऊरानीपुर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। इन समस्याओं का हुआ निस्तारण जिलाधिकारी ने बैठक में 06 बिंदुओं पर चर्चा की, जो सड़क निर्माण में बाधक हैं। उनमें प्रमुखता ग्राम जावन में कतिपय भूमिधरों द्वारा कब्जा न छोड़ने से 640 मीटर सड़क निर्माण कार्य बाधित है। ग्राम सकरार में भूमि स्थित परिसंपत्तियों को हटाकर कब्जा एनएचएआई को सौंपा जाना है, जिस कारण 2.13 किलोमीटर कार्य बाधित है। ग्राम निमौनी में भूमिधरों द्वारा कब्जा न छोड़ने पर 400 मीटर सड़क निर्माण कार्य तथा ग्राम मिलौनी में बृजेश पाठक द्वारा कब्जा न दिए जाने के कारण 405 मीटर में वाहन अंडरपास एवं सड़क निर्माण कार्य बाधित है। अपर जिलाधिकारी राम अक्षयवर चैहान ने बताया कि इन समस्याओं में से लगभग सभी का निस्तारण कर लिया गया है। अब तक जो कार्य विलंब हो रहा है वह कार्यदाई संस्था तथा एनएचएआई के द्वारा ही है। हिन्दुस्थान समाचार/महेश-hindusthansamachar.in