पतंग उड़ाने वालों ने चीन निर्मित मांझा प्रयोग किया तो होगी कार्रवाई: जयनाथ यादव
पतंग उड़ाने वालों ने चीन निर्मित मांझा प्रयोग किया तो होगी कार्रवाई: जयनाथ यादव
उत्तर-प्रदेश

पतंग उड़ाने वालों ने चीन निर्मित मांझा प्रयोग किया तो होगी कार्रवाई: जयनाथ यादव

news

हापुड़, 02 अगस्त (हि.स.)। जिला प्रशासन ने रक्षाबंधन पर्व पर पंतग उड़ाने के लिए चीन निर्मित मांझा प्रयोग किए जाने पर कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। प्रशासन ने इस मांझे के प्रयोग से दुर्घटनाएं होने के कारण इसे प्रतिबंधित किया है। अपर जिलाधिकारी जयनाथ यादव ने कहा कि सोमवार को रक्षाबंधन का त्योहार है। इस दिन लोग आमतौर से पतंग भी उड़ाते है। वर्षों से यह परंपरा चली आ रही है। उन्होंने कहा कि देखने में आया है कि कुछ लोग पंतग उड़ाने के लिए चीन निर्मित मांझा प्रयोग करते हैं। यह मांझा टूट कर नीचे गिरते समय दीवार, बिजली के तारों अथवा छतों पर लगी रेलिंग में अटक कर नीचे लटका रहता है। कई बार यह लटका हुआ मांझा दोपहिया वाहन चालकों के गले में लिपट कर उनका गला काट देता है। इस वाहन चालक की जान को खतरा भी पैदा हो जाता है। इस कारण प्रशासन ने चीन निर्मित इस मांझे का प्रयोग पूरी तरह प्रतिबंधित किया हुआ है। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि कोई व्यक्ति चीन निर्मित मांझे का प्रयोग करता पाया जाएगा तो उसके विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उल्लेखनीय है कि जनपद में चीन निर्मित मांझे के कारण कई दुर्घटनाएं हो चुकी हैं। इनमें से कई लोगों का जीवन चिकित्सकों के अथक प्रयासों के बाद बड़ी मुश्किल से बच पाया है। नगर में गली-मोहल्लों में स्थित अधिकतर दुकानों पर और गांवों में चीन निर्मित मांझे की बिक्री होती देखी जा सकती है। नगर में पुराना बाजार मुख्य रूप से चीन निर्मित मांझे की बिक्री का मुख्य केंद्र है। हिन्दुस्थान समाचार/विनम्र व्रत त्यागी-hindusthansamachar.in