it-is-inappropriate-to-desolate-the-track-traders-of-kushinagar-brahma-shankar-tripathi
it-is-inappropriate-to-desolate-the-track-traders-of-kushinagar-brahma-shankar-tripathi
उत्तर-प्रदेश

कुशीनगर के पटरी कारोबारियों को उजाड़ना अनुचित : ब्रह्माशंकर त्रिपाठी

news

-क्षतिपूर्ति दे और बसाए प्रशासन अन्यथा करेंगे आंदोलन कुशीनगर, 06 अप्रैल (हि.स.)। पूर्व मंत्री व वरिष्ठ सपा नेता ब्रह्माशंकर त्रिपाठी ने अतिक्रमण के नाम पर कसया के पटरी कारोबारियों को उजाड़े जाने पर आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा कि एक तरफ सरकार का आदेश है कि पटरी पर कारोबार करने वालों को तब तक न उजाड़ा जाए, जब तक कहीं अन्य बसाने की वैकल्पिक व्यवस्था न हो जाए। दस हजार की आर्थिक सहायता भी दी जा रही है। पर प्रशासन ही सरकार की मंशा पर पानी फेर रहा है। उन्होंने गांधी चौक पर निर्वाध आवागमन में बाधित सीओ आफिस को हटाने की मांग की। पूर्व मंत्री ने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। पूर्व मंत्री ने कहा कि यह कार्रवाई अनुचित है। सुबह-सुबह नोटिस दिए बगैर जेसीबी से तोड़-फोड़ की गई, गुमटियां उठा ली गईं। जिससे रोज कमाने खाने वाले लोग सड़क पर आ गए हैं। उन्होंने पटरी कारोबारियों को बसाने और क्षतिपूर्ति की मांग की। चेतावनी दिया कि यदि ऐसा नही किया गया तो आचारसंहिता के बाद सपा आंदोलन करेगी। उन्होंने कहा सपा सत्ता में आई तो पटरी कारोबारियों को स्थाई रूप से बसाने की व्यवस्था करेगी। पूर्व मंत्री ने ई-रिक्शा चालकों से प्रतिदिन 20 की वसूली की निंदा की। कहा कि गरीब लोग है। नगरपालिका में 450 ई रिक्शा है। नपा हर साल गरीब रिक्शा चालकों से 32 लाख आय चाहती है। दूसरी तरफ टैक्सी, टेम्पो व बस स्टैंड 41 लाख में नीलाम करती है।नपा व ठेकेदार के बीच क्या खेल हो रहा है, यह गम्भीर विषय है। इसकी जांच होनी चाहिए। रिक्शा चालक पांच दिन से हड़ताल पर हैं। रिक्शा चलती फिरती गाड़ी है। इनका कोई स्टैंड नही होता। फिर भी नपा टैक्स लेना चाहती है। उन्होंने प्रशासन से बस स्टेशन पर जितना जल्द हो सके सामुदायिक शौचालय बनवाने की मांग की। कहा कि प्रशासन को रोज शहर में जरूरी कार्य से आने वाले वृद्ध लोगों, बहु बेटियों की सुविधा के बारे में भी सोचना चाहिए। पूर्व मंत्री ने प्रशासन से बैनेट क्लब से उजाड़े गए कारोबारियों से लिये गए 50-50 हजार की रकम को वापस दिलाने की मांग की। पूर्व मंत्री को प्रभावित पटरी कारोबारी रामकिशुन, संजय मद्देशिया, शर्मानन्द, दयाशंकर, नुराआलम, अनुज, रजीउल्लाह आदि दर्जनों व्यापारियों ने अपनी पीड़ा बताई। विकास कार्यो में पारदर्शिता की मांग पूर्व मंत्री ब्रह्माशंकर ने सपा की ओर से प्रशासन द्वारा किये जा रहे हिरण्यवती नदी का सुंदरीकरण, टेनिस कोर्ट, पर्यटन विकास आदि कार्यो का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि इसके लिए धन कहां से आ रहा है, यह सार्वजनिक होना चाहिए। उन्होंने कहाकि प्रशासन हिरण्यवती को लंदन की टेम्स या पेरिस की वेनिस नदी की तरह विकास करे, गोल्फ कोर्स, स्टेडियम, आडिटोरियम बनाए। सपा इसका स्वागत करती है और बधाई देती है। मास्टर प्लान क्या है, कितना पैसा सरकार दे रही है, सुंदरीकरण का कार्य किस बजट से हो रहा है इसका खुलासा होना चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार/गोपाल