'जल-जीवन-मिशन' के कार्यों की समीक्षा में डीएम ने दिए गुणवत्ता युक्त कार्य कराने के निर्देश

'जल-जीवन-मिशन' के कार्यों की समीक्षा में डीएम ने दिए गुणवत्ता युक्त कार्य कराने के निर्देश
in-reviewing-the-works-of-39jal-jeevan-mission39-dm-gave-instructions-to-get-quality-work-done

चित्रकूट,11 जून (हि.स.)। जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जल जीवन मिशन के कार्यों की समीक्षा बैठक कार्यदाई संस्थाओं के अधिकारियों के साथ की गई। जिलाधिकारी ने शुक्रवार को कार्यदाई संस्थाओं के अधिकारियों को निर्देश दिए कि पेयजल योजनाओं टीमें बढ़ाकर कार्यों को तेजी से कराए जाएं। इंटेक बेल के लिए जमीन जो चिन्हित हो गई है उसमें भी तत्काल कार्य शुरू करवा दें। बरसात के पहले सड़कों का डब्ल्यूबीएम अवश्य करा लिया जाए। कार्यदाई संस्थाओं के अधिकारियों ने बताया कि सीडब्ल्यूआर, डब्ल्यूटीपी की डिजाइन शासन से स्वीकृत नहीं हुई है। इस पर जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे को निर्देश दिए की तत्काल मेरी तरफ से शासन को पत्र भेजा जाए और इन कार्यदाई संस्थाओं ने कितने कार्य शुरू किया है उनकी प्रगति क्या है लगातार समीक्षा करें। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व से कहा कि बिहरवां व तरांव में ओवरहेड टैंक के लिए जमीन की व्यवस्था करें। जिलाधिकारी ने परियोजना प्रबंधक जल निगम को निर्देश दिए कि जल जीवन मिशन के जो कार्य चल रहे हैं उनकी गुणवत्ता व प्रगति का मौके पर जांच कर अवगत कराएं। उन्होंने कार्यदाई संस्थाओं को यह भी निर्देश दिए कि जल जीवन मिशन पेयजल योजना यह भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है जो शासन से गाइडलाइन जारी की गई है उसके अनुसार कार्यों को समय सीमा के अंदर गुणवत्ता पूर्ण कराएं। जो भी सामग्री लगाई जाए उसकी गुणवत्ता अच्छी हो इसका आप लोग विशेष ध्यान दें। इसके साथ ही साथ पेयजल से संतृप्त कराए जाने वाले गांव को भी चिन्हित करके कनेक्शन का भी कार्य शुरू करा दे। कहा कि, जैसे ही पेयजल योजनाओं के डब्ल्यूटीपी तैयार हो जाएंगे तो कार्य तेजी से होगा। उन्होंने पेयजल योजना चांदी बांगर, सिलौटा तथा रैपुरा मैं कराए जा रहे कार्य, जिसमें पाइप लाइन, ओवरहेड टैंक, डब्ल्यूटीपी, बाउंड्री वाल, सीडब्ल्यूआर, इंटेक बेल आदि की विस्तृत समीक्षा की। बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व जी पी सिंह, अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे सुनंदू सुधाकरण, परियोजना प्रबंधक जल निगम राजेंद्र कुमार सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/ रतन