प्रयागराज मण्डल में वैक्सीनेशन का असर, संक्रमित पुलिसकर्मियों के आंकड़ों में आई गिरावट : आईजी

प्रयागराज मण्डल में वैक्सीनेशन का असर, संक्रमित पुलिसकर्मियों के आंकड़ों में आई गिरावट : आईजी
impact-of-vaccination-in-prayagraj-division-decline-in-figures-of-infected-policemen-ig

प्रयागराज, 07 मई (हि.स.)। कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में पुलिसकर्मियों के लिए राहत भरी खबर है। प्रयागराज रेंज के पुलिस कर्मियों का वैक्सीनेशन कराये जाने के बाद कोरोना की फर्स्ट वेब की तुलना में जहां सेकेंड वेब में कोरोना संक्रमितों की संख्या में आठ गुना तक कमी आयी है। वहीं, कोरोना की सेकेंड वेब में प्रयागराज रेंज में किसी भी पुलिस की मौत नहीं हुई है। जबकि फर्स्ट वेब के दौरान संक्रमित चार पुलिस कर्मियों की जान चली गई थी। आईजी प्रयागराज रेंज कविन्द्र प्रताप सिंह के मुताबिक कोरोना की महामारी में अब तक रेंज के चार जिलों प्रयागराज, प्रतापगढ़, कौशाम्बी और फतेहपुर में कुल 755 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हुए हैं। जिनमें फर्स्ट वेब के दौरान 669 पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हुए और चार पुलिस कर्मियों की मौत भी हो गयी। इसमें प्रतापगढ़ जिले में तैनात एक इंस्पेक्टर और दो हेड कांस्टेबल के साथ ही प्रयागराज जिले में तैनात एक हेड कांस्टेबल की मौत शामिल है। लेकिन उसके बाद फ्रंट वारियर्स में शामिल पुलिसकर्मियों का वैक्सीनेशन कराया गया। इस प्रकार प्रयागराज रेंज के पुलिस कर्मियों के लिए वैक्सीनेशन कोरोना की रोकथाम के लिए सबसे बड़ा हथियार साबित हो रहा है। होली बाद अप्रैल में आई सेकेंड वेब में सिर्फ 87 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हुए। हालांकि इस दौरान पुलिसकर्मियों को पंचायत चुनावों के लिए दूसरे जिलों में भी भेजा गया। इसके बावजूद कोरोना संक्रमण की दर पुलिसकर्मियों में बेहद कम रही। आईजी के मुताबिक फर्स्ट वेब में जहां 88.8 प्रतिशत पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव हुए। वहीं सेकेंड वेब में 11 फीसदी पुलिसकर्मी ही कोरोना संक्रमण की चपेट में आये। उन्होंने बताया कि चारों जिलों में 97 प्रतिशत पुलिसकर्मियों का वैक्सीनेशन कराया जा चुका है। जिसका असर कोरोना की सेकेंड वेब में भी देखने को मिला है। बहरहाल, वैक्सीनेशन के बाद पुलिस फोर्स में कोरोना का असर कम होने को लेकर आईजी केपी सिंह बेहद उत्साहित है। उन्होंने कहा है कि सबसे ज्यादा संक्रमण के बीच रहने के बावजूद वैक्सीनेशन की वजह से ही पुलिसकर्मियों को कोरोना से बचाया जा सका है। इसको देखते हुए उन्होंने सभी जिलों को पुलिस कप्तानों को महकमे में शत प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य पूरा करने का भी निर्देश दिया है, ताकि कोरोना की इस महामारी को हराया जा सके। हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त