कोरोना कॉल में फेल रही सरकार, झंडे दिखाने में सपाईयों को पुलिस ने हिरासत में लिया

कोरोना कॉल में फेल रही सरकार, झंडे दिखाने में सपाईयों को पुलिस ने हिरासत में लिया
government-failed-in-showing-corona-call-police-detained-policemen

कानपुर, 22 मई (हि. स.)। समाजवादी पार्टी के नगर अध्यक्ष डॉ इमरान ने अपने पार्टी के पदाधिकारियों के साथ आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नगर आगमन पर उनके रुट पर काले झंडे दिखाकर और सरकार नारे लगाकर अपना विरोध दर्ज करवाया। इस दौरान प्रदर्शनकारी सपाईयों को पुलिस ने हिरासत में लिया और थाने ले गई। नगर अध्यक्ष डॉक्टर इमरान ने बताया कि कोरोना वायरस में जनता ने अपने लोगों को अपनी आंखों के सामने मौत का निवाला बनते देखा है। यतीम और बेसहारा होते लोगों ने अपने परिवार के प्रिय सदस्य की अंतिम संस्कार के लिए 20 हजार से लेकर 40 हजार रुपए तक खर्च करके अंतिम संस्कार किया है। कोरोना वायरस महामारी के नाम पर कानपुर शहर के कोविड-19 व नान कोविड-अस्पतालों के डॉक्टरों ने पीड़ित परिवारों से अस्पताल में भर्ती करवाने बेड दिलवाने ऑक्सीजन व दवाइयों के नाम पर लाखों रुपए के बिल बना कर दोनों हाथों से जनता को लूटा है। डॉ इमरान ने बताया कि शहर के श्मशान घाटों पर कफन चोर गिरोह ने लाशों से उतरने वाले कफन शॉल, रामनामी पटका, कलावा व बांस तक बाजारों में दोबारा से आधे दामों पर बेचकर लाखों रुपए कमाए हैं। इस तरह की घटना पर पुलिस रोक लगाने में नाकाम साबित हो गई है। कहा कि, कोरोना वायरस ने शहर की सड़कों पर अस्पतालों के गेट पर घरों में मौत का तांडव मचा कर जनता को अपना निवाला बनाया है। वहीं उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण के इस दौर में अस्पतालों में जनता के साथ हो रही लूट व कफन चोर गिरोह, दवाइयों, ऑक्सीजन सिलेंडर को महंगे दामों पर बेचने और हो रहे लूट रोकने में सफल नहीं हो पाई है। क्योंकि स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों व स्वास्थ्य अधिकारियों की मिलीभगत से अस्पतालों में लूट मची है। कफन चोर गिरोह पर पुलिस पाबंदी लगाने में नकारा साबित हो गई है। सपा के विरोध प्रदर्शन में नगर महासचिव अभिषेक गुप्ता मोनू, नगर उपाध्यक्ष सुभाष द्विवेदी, नरेंद्र सिंह, सैफ, टिल्लू जायसवाल, जमालुद्दीन जुनैदी, जीशान अहमद, अमर बहादुर, श्रेष्ठ गुप्ता, पंकज गुप्ता, शकील अहमद व अन्य सपाई मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/हिमांशु