गाजियाबाद : रक्षाबन्धन पर्व को लेकर बाजार हुए गुलजार, रविवार को खुलेंगी मिठाई व राखियों की दुकानें
गाजियाबाद : रक्षाबन्धन पर्व को लेकर बाजार हुए गुलजार, रविवार को खुलेंगी मिठाई व राखियों की दुकानें
उत्तर-प्रदेश

गाजियाबाद : रक्षाबन्धन पर्व को लेकर बाजार हुए गुलजार, रविवार को खुलेंगी मिठाई व राखियों की दुकानें

news

गाजियाबाद, 31 जुलाई (हि.स.)। भाई-बहन के इस पावन पर्व रक्षाबन्धन को लेकर शहर के बाजार राखियों और उपहारों से गुलजार हो गए हैं। त्योहार के मद्देनजर जिला प्रशासन ने रविवार को भी राखियों व मिठाईयों की दुकानें खोले जाने की अनुमति दी है। जबकि कोरोना संक्रमण के कारण इस दिन बाजार पूरी तरह से बंद रहते हैं। जिलाधिकारी डॉ. अजय शंकर पांडेय ने बताया कि रक्षाबंधन के यह त्योहार भाई-बहन के लिए प्रतीक है। यह त्योहार सोमवार को मनाया जाना है। इस वजह से रविवार को मिठाईयां और रााखयों की दुकानें खोल जाने के निर्देश दिए गए हैं। लेकिन सरकार की गाइड लाइन का पालन करना सभी को जरुरी हैं। ईको फ्रेंडली राखियों की मांग ज्यादा बाजार में ईको फ्रेंडली राखियां सिर चढ़कर बोल रही है। खास बात यह है कि ये राखियां दाल, चावल, गेहूं, गेंदे के फूल, बाजरा आदि से बनायी गयी है, जो पर्यावरण के दृष्टीकोण से भी वाजीब मानी जा रही है। जिला प्रशासन के सहयोग से स्वयंसेवी संगठनों ने केंद्र सरकार के आत्मनिर्भर मिशन के तहत इन राखियो का निर्माण किया है। इन राखियां के स्टॉल शहर के विभिन्न बाजारो में लगे हुए हैं। हिन्दुस्थान समाचार /फरमान/दीपक-hindusthansamachar.in