ghaziabad-executive-engineer-arrested-red-handed-taking-13-lakh-bribes
ghaziabad-executive-engineer-arrested-red-handed-taking-13-lakh-bribes
उत्तर-प्रदेश

गाजियाबाद : अधिशासी अभियंता 13 लाख रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

news

गाजियाबाद, 08 अप्रैल (हि.स.)। विजिलेंस ने गुरुवार को छापा मारकर उत्तर प्रदेश जल निगम के अधिशासी अभियंता को राजनगर से एक ठेकेदार से 13 लाख रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। गोविंदपुरम निवासी ठेकेदार सतीश कुमार ने बताया कि उत्तर प्रदेश जल निगम की दिल्ली जल संपूर्ति इकाई के अधिशासी अभियंता विक्रम सिंह ने उससे 25 लाख रुपये की रिश्वत की मांग की थी। सतीश ने बताया कि दिल्ली को आपूर्ति होने वाले 270 क्यूसेक वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के टैंक की सफाई कर सिल्ट निस्तारण के दो ठेके करीब दो माह पूर्व 03 करोड़ और 60 करोड़ के टेंडर प्राप्त हुए थे। दो माह चली बातचीत के बाद 21 लाख रुपये में बात तय हो गई। लेकिन ठेकेदार सतीश ने विक्रम को रंगे हाथ गिरफ्तार कराने का मन बना लिया और विजिलेंस में शिकायत दर्ज करवाई थी। ठेकेदार ने बताया कि गुरुवार को रिश्वत की रकम में से पहली किस्त के रूप में 13 लाख रुपये देना तय हुआ। योजना के अनुसार जैसे ही जल निगम के गाजियाबाद राजनगर सेक्टर एक स्थित मुख्य अभियंता कार्यालय परिसर में अधिशासी अभियंता को सतीश कुमार ने 13 लाख रुपये दिये, वैसे ही विजिलेंस टीम ने विक्रम सिंह को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के बाद विजिलेंस टीम विक्रम सिंह को लेकर कविनगर थाने पहुंची और हवालात में बंद कर दिया। विजिलेंस की टीम में करीब दस अधिकारी शामिल थे। टीम विक्रम सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज कराई है। हिन्दुस्थान समाचार/फरमान