पुलिस की सख्ती के कारण श्रावण के चौथे सोमवार को गंगा स्नान नहीं कर पाए श्रद्धालु
पुलिस की सख्ती के कारण श्रावण के चौथे सोमवार को गंगा स्नान नहीं कर पाए श्रद्धालु
उत्तर-प्रदेश

पुलिस की सख्ती के कारण श्रावण के चौथे सोमवार को गंगा स्नान नहीं कर पाए श्रद्धालु

news

हापुड़, 27 जुलाई (हि.स.)। तीर्थनगरी ब्रजघाट में श्रावण माह के चौथे सोमवार पर गंगा किनारे पुलिस ने सख्त रुख अपनाया। अस्थि विसर्जन के लिए आने वाले लोगों को छोड़कर किसी अन्य को गंगा स्नान की अनुमति नहीं दी। नगरपालिका पार्किंग से लेकर गंगा किनारे तक पुलिस ने स्नान करने के लिए आने वालों एवं कांवड़ियों पर नजर रखी। तीर्थनगरी के मंदिरों में भीे श्रद्धालुओं को जलाभिषेक नहीं करने दिया गया। पिछले रविवार को कांवड़ियां ब्रजघाट से गंगाजल ले जाने में सफल हो गए थे, लेकिन इस बार पुलिस ने यहां सख्ती बढ़ा दी। तीर्थनगरी में पालिका की पार्किंग से लेकर गंगा किनारे के साथ नगर के मुख्य रास्तों पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। श्रावण मास के चतुर्थ सोमवार पर नक्का कुआं मंदिर, पंचायती मंदिर, अमृत परिसर मंदिर व कल्यापुर मंदिर सहित विभिन्न मंदिरों पर पुलिस का पहरा रहा। उल्लेखनीय है कि प्रतिवर्ष श्रावण माह के प्रत्येक सोमवार को शिवभक्त ब्रजघाट से गंगाजल ले जाकर अपनी मान्यता वाले मन्दिरों में भगवान शिव का जलाभिषेक करते हैं। इसके अलावा श्रावण मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को कांवड़ों में गंगाजल ले जाकर भी विशेष रूप से जलाभिषेक करते हैं। इस वर्ष कोरोना संक्रमण के कारण सरकार ने कांवड़ यात्रा और ब्रजघाट पर गंगा स्नान करने अथवा वहां से गंगाजल लेने के लिए भीड़ के एकत्र होने पर प्रतिबंध लगा दिया था। इस कारण इस वर्ष कांवड़ यात्रा भी सम्पन्न नहीं हो पाई थी। हिन्दुस्थान समाचार/विनम्र व्रत त्यागी-hindusthansamachar.in