फर्रुखाबाद में बढ़ रहा गंगा का जलस्तर, सैकड़ों गावों में बाढ़ का खतरा मंडराया

फर्रुखाबाद में बढ़ रहा गंगा का जलस्तर, सैकड़ों गावों में बाढ़ का खतरा मंडराया
फर्रुखाबाद में बढ़ रहा गंगा का जलस्तर, सैकड़ों गावों में बाढ़ का खतरा मंडराया

फर्रुखाबाद, 25 जुलाई (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में गंगा नदी का जलस्तर बढ़ने से गंगा पार के ग्रामीणों के दिल की धड़कन बढ़ गई हैं। जीवनदायिनी कहीं जाने वाली गंगा में हर बार आने वाली बाढ़ से गंगा पार के तकरीबन एक सैकड़ा गांवों में निवास करने वाले बाशिंदे तबाह हो चुके हैं। तौफीक की मढैया, मंझा की मड़ैया, कुम्हरोर, सबलपुर, बरुआ सहित सैकड़ों गांव के लोग अपना-अपना गांव छोड़ कर चले जाते हैं और जब तक गंगा का पानी कम नहीं होता तब तक खानाबदोश की तरह जीवन यापन करते हैं। लेकिन गंगा में आ रहे सैलाब को रोकने का कोई स्थाई कार्य नहीं किया जा रहा है। सबलपुर के रहने वाले सुधीर सिंह, वीरेंद्र, राम भजन तथा गांव बरुआ के रहने वाले चंद्रपाल सिंह बताते हैं कि प्रतिवर्ष गंगा में उफान से उनकी फसलें बर्बाद हो जाती हैं और घरों में पानी भर जाता है। जिस वजह से बरसात के समय उन लोगों को जीना मुहाल हो जाता है। गंगा नदी का पानी चेतावनी बिंदु के समीप पहुंच रहा है। इसकी खास वजह है कि नरौरा बांध से प्रतिदिन गंगा नदी में पानी छोड़ा जा रहा है और पानी यहां गंगा नदी में बाढ़ की स्थिति पैदा कर रहा है। मुख्य विकास अधिकारी राजेंद्र पेशिया का कहना है कि जिला प्रशासन की ओर से बाढ़ से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर ली गई है। नाविक और नाव सभी मंगा ली गई है। यदि बाढ़ आती है तो बाढ़ पीड़ितों को किसी भी तरह की परेशानी नहीं होने दी जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/चन्द्रपाल/दीपक-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.