five-people-including-three-members-of-the-same-family-got-corona-infected-causing-chaos-in-chitrakoot
five-people-including-three-members-of-the-same-family-got-corona-infected-causing-chaos-in-chitrakoot
उत्तर-प्रदेश

एक ही परिवार के तीन सदस्यों समेत पांच के कोरोना संक्रमित मिलने से चित्रकूट में मचा हड़कंप

news

- चित्रकूट जिले में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या हुई 22 चित्रकूट, 04 अप्रैल (हि.स.)। उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के बीच बसा बुंदेलखंड का सबसे पिछडा जिला चित्रकूट एक बार फिर वैश्विक महामारी कोरोना के बढ़ते प्रकोप से दहशत में है। रविवार को जिले के मानिकपुर में एक ही परिवार के तीन समदस्यों समेत पांच लोगों के एक ही दिन मेें कोरोना संक्रमित मिलने से पूरे जिले में हड़कंप मचा हुआ है। जिलाधिकारी शुभ्रांत कुमार शुक्ल ने सीएमओ को कोरोना संक्रमित पाये गये लोगों को इलाज के लिए बांदा मेडिकल कालेज भेजने के साथ-साथ संवेदनशील इलाकों में कड़ी सतर्कता बरतने के निर्देश दिये है। पूरे विश्व को तबाह करने वाली करोना महामारी ने एक बार फिर अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है। यूपी के अन्य जिलो की तरह बुंदेलखंड का चित्रकूट जनपद भी कोरोना महामारी की चपेट में आता नजर आ रहा है। रविवार को जिले के मानिकपुर तहसील के शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में एक परिवार के तीन सदस्यों समेत पांच लोगों के एक साथ करोना संक्रमित पाये जाने से आसपास के इलाके में हड़कंप मच गया है। सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र के कोविड सेटर मे सेम्पल के दौरान मानिकपुर कस्बे के गोविन्द्र नगर निवासी एक ही परिवार के तीन सदस्यों के तीन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। तीनों संक्रमितों को इलाज के लिए बांदा मेडिकल कालेज भेजा गया है। इसके अलावा रेलवे स्टेशन में हुई जांच में मुम्बई से आये बराहमाफी व रानीपुर के एक-एक प्रवासी श्रमिक को भी कोरोना संक्रमित पाया गया है। दोनों ग्रामीणों को स्वास्थ्य विभाग की देख-रेख में उनके घरों में ही कोरेनटाइन किया गया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मानिकपुर के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राजेश कुमार सिंह ने लोगों से अपील की है कि प्रवासी लोगों की गांव में बिना जांच के न आने दे। साथ ही शासन के निर्देशानुसार कोरोना गाइडलाइन के मुताबिक मास्क व दो गज की दूरी कड़ाई के साथ अपनाने की अपील की है। उन्होंने बताया कि मानिकपुर के गोविन्द नगर निवासी लाल जी का पुत्र होली मे रायपुर से घर लौटा था। यात्रा के दौरान रायपुर मे हुई जांच के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद उसके सम्पर्क में आने से माता-पिता व एक नातिन की तबियत खराब हो गई थी। रविवार को हुई जांच के दौरान लालजी 72, पुलुवा देवी 65, नातिन मोनिका 22 वर्ष कोरोना संक्रमित पाये गये। सीएमओ डा0 विनोद कुमार यादव ने बताया कि मानिकपुर के तीनों संक्रमितों को इलाज के लिए बांदा मेडिकल कालेज भेजा जा रहा है। इसके अलावा पूरे जिले में लोगों से लगातार सावधानी बरतने की अपील कर रही है। मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सबसे जरूरी है। लोगों में मास्क के प्रति जागरूकता बढ़ाने के प्रयास किया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/ रतन