फर्रुखाबाद के उद्योग पति दिनेश गुप्ता का पूरा परिवार कोरोना संक्रमित
फर्रुखाबाद के उद्योग पति दिनेश गुप्ता का पूरा परिवार कोरोना संक्रमित
उत्तर-प्रदेश

फर्रुखाबाद के उद्योग पति दिनेश गुप्ता का पूरा परिवार कोरोना संक्रमित

news

फर्रुखाबाद,24 जुलाई (हि.स.)उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले के उद्योगपति दिनेश गुप्ता का पूरा परिवार कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से हाहाकार मच गया है। जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने पूरी फैमिली की सैंपलिंग कराकर पर्याप्त इलाज कराने के सीएमओ को निर्देश दिये हैं। बीते दिन मोहम्मदाबाद के आजाद नगर स्थित बैंक के सामने वाली गली के निवासी और प्रमुख उद्योगपति गंगाराम गुप्ता के 65 वर्षीय पुत्र दिनेश गुप्ता का निधन हो गया था। उनके छोटे भाई के बेटे अतुल को कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद दिनेश गुप्ता कोरोना के डर से दहशत में आ गये थे। जिसके चलते हृदयगति रुकने के कारण उनकी मौत हो गई थी। वह राइस मिल, आटा मिल, फ्लोर मिल एवं कोल्ड स्टोरेज के मालिक हैं। श्री गुप्ता के छोटे पुत्र नीरज गुप्ता को भी कोरोना संक्रमण हो गया है। यह संक्रमण उनके परिवार में भी फैलने की आशंका जताई जा रही है क्योंकि उनके परिवार के बच्चों से लेकर पिता और मां गंगा देवी बुरी तरह बीमार हैं। पूरे घर में खांसी, बुखार का साया आ गया है। इसके अलावा श्री गुप्ता के दो पल्लेदार और ड्राइवर भी कोरोना पाॅजिटिव निकले हैं। उनके सभी उद्योगों में करीब 200 कामगार काम करते हैं। यदि समय रहते उनके परिवार के लोगों को सुरक्षित न किया गया तो संक्रमण का यह बुरा साया विकराल रूप लेते देर नहीं लगायेगा। बार-बार सूचना होने के बावजूद स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही यहां चरम पर है। परिवार के लोगों की जांच 19 व 20 जुलाई को हो चुकी है लेकिन अभी तक सभी की रिपोर्ट नहीं आई। आज स्थानीय चिकित्सा टीम जांच करने के लिए पहुंची लेकिन कल के लिए टाल कर कर्तव्यों से इतिश्री कर ली। परिवार के लोगों का कहना है कि सीएचसी प्रभारी डाॅ. सौरभ कटियार बार-बार सूचना मिलने के बाद भी ध्यान नहीं दे रहे। जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह को आज जैसे ही इस मामले की सूचना मिली उन्होंने आननफानन में सीएमओ को कार्रवाई कर गुप्ता फैमिली के मामले को गंभीरता से लेने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने श्री गुप्ता के सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में काम करने वाले श्रमिकों के भी सैंपल लेने के लिए निर्देशित किया। श्री गुप्ता की फ्लोर मिल का आटा जनपद में सप्लाई होता है। इसलिए उनकी फ्लोर मिल में काम करने वाले कामगारों को सामाजिक दूरी प्रोटोकाल का पालन करने के निर्देश दिये गये हैं। साथ ही जरा सी चूक होने पर जिलाधिकारी ने जिम्मेदारों को कार्रवाई की भी चेतावनी दी है। साफ कहा कि संक्रमण को लेकर जिम्मेदार पूरी तरह सतर्क और एलर्ट रहें। बताना जरूरी है कि गुप्ता फैमिली में मृतक श्री गुप्ता के पिता व बुजुर्ग मां 95 व 90 वर्ष के हैं। वहीं नन्हें-मुन्ने बच्चे भी संक्रमण की चपेट में बताये जा रहे हैं। कुदरत की ऐसी लीला गुप्ता फैमिली में धन-धान्य की कोई कमी नहीं है लेकिन विपदा के इस दौर में उनके मोहल्लेवासी और पड़ोसी भी खड़े होने का नाम नहीं ले रहे। मानवता का बेमिसाल परिचय देते हुए जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने गुप्ता फैमिली के मामले को बेहद गंभीरता से लेते हुए त्वरित कार्रवाई के लिए निर्देशित किया हैै। श्री गुप्ता सामाजिक कार्यों में भी अपना बेहतर रुझान रखते थे। बीते दिनों उनके इंतकाल के बाद कस्बे में शोक की लहर दौड़ी है। ऐसे में उनके समूचे परिवार को स्वस्थ रहने की कामना को लेकर उनके चाहने वाले लोग जिलाधिकारी की त्वरित कार्रवाई को लेेकर खासे उत्साहित हैं। हिन्दुस्थान समाचार/चन्द्रपाल/मोहित-hindusthansamachar.in