गाजीपुर बॉर्डर पर भिड़े किसान व भाजपाई, कई वाहन क्षतिग्रस्त

गाजीपुर बॉर्डर पर भिड़े किसान व भाजपाई, कई वाहन क्षतिग्रस्त
farmers-and-bjp-clashed-at-ghazipur-border-many-vehicles-damaged

गाजियाबाद, 30 जून (हि.स.)। गाजीपुर बॉर्डर पर बुधवार को खेती कानूनों के खिलाफ आंदोलनरत किसानों व भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच विवाद हो गया और जमकर लाठी डंडे चले। इस दौरान भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ा कर लाठी व डंडों से पीटा और वाहनों में तोड़फोड़ की। बुधवार को भाजपा के नवनियुक्त प्रदेश मंत्री अमित बाल्मीकि का स्वागत करने के लिए यूपी गेट पर भाजपा कार्यकर्ता पहुंचे। इसी बीच किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने उन्हें काले झंडे दिखाते हुए उनके काफिले पर हमला बोल दिया। पुलिस बल की मौजूदगी में यूपी गेट पर भारतीय किसान यूनियन से जुड़े कार्यकर्ताओं ने पहले काफिले को काले झंडे दिखाए। उसके बाद सभी ने लाठी-डंडों से काफिले को पीटना शुरू कर दिया। किसी तरह भाजपा कार्यकर्ता वहां से जान बचाते हुए भाग खड़े हुए। हमले के दौरान भाजपा महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा, पप्पू पहलवान, रमिता सिंह किसी तरह अपनी गाड़ियों से बचकर निकले। लेकिन इसी बीच लाठी-डंडों से उनकी गाड़ियों को पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया। भाजपा महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा ने इस पूरे मामले की जांच कराने की मांग की है। उधर केंद्रीय सड़क राज्य मंत्री और इस घटना को दुखदाई बताते हुए कहा कि इस पूरे मामले की जांच होगी और दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। इसी कड़ी में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने आरोप लगाया कि भाजपा कार्यकर्ता किसान यूनियन के मंच को कब्जा करना चाहते थे। जिसकी वजह से यह घटना घटित हुई। इस सम्बंध में पुलिस उपमहानिरीक्षक अमित कुमार पाठक ने बताया कि इस पूरे मामले की जांच की जा रही है जो भी इसमें दोषी होगा उसके खिलाफ विधिक कार्यवाही होगी। हमले की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह और पुलिस उपमहानिरीक्षक अमित कुमार पाठक भी पुलिस बल के साथ पहुंच गए। हिन्दुस्थान समाचार/फरमान/विद्या कान्त

अन्य खबरें

No stories found.